जागरण संवाददाता, फरीदकोट

मुक्तसर के जवाहरेवाला कत्ल कांड में आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर संघर्ष कर रही एक्शन कमेटी के कनवीनर मंगा आजाद व जगजीत साबर के खिलाफ संगीन धाराओं के तहत केस दर्ज किए जाने के खिलाफ बुधवार को नौजवान भारत सभा की तरफ से गांव ढिलवां कलां, पंजगराईं कलां व मौड़ में मुक्तसर पुलिस के खिलाफ अर्थी फूंक प्रदर्शन किया।

इस मौके पर सभा के जिला नेता राजविदर ढिलवां व जिला सचिव सुरिदर ढिलवां ने कहा कि जवाहरेवाला कांड 13 जुलाई को पेश आया था। लेकिन एक माह बीत जाने पर भी मुक्तसर पुलिस ने अभी तक 12 आरोपियों में से सात आरोपियों को ही गिरफ्तार किया। पुलिस जानबुझ कर मुख्य आरोपियों को पकड़ने से गुरेज कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि इन आरोपियों को मुक्तसर क्षेत्र का एक कांग्रेसी विधायक बचाने में लगा हुआ है।

पीएसयू के जिला मीत प्रधान राजिदर ढिलवां व विद्यार्थी नेता सुखप्रीत मौड ने कहा कि जब पुलिस मुख्यमंत्री की पत्नी के खाते से 23 लाख की ठगी करने वाले आरोपियों को रात रातों झारखंड से पकड़ कर ला सकती है तो हत्यारोपियों को क्यों नहीं पकड़ा जा सकता। पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने की जगह संघर्ष कर रहे जत्थेबंदियों के नेताओं पर झूठे केस दर्ज किए है लेकिन ऐसे करके संघर्ष को दबाया नहीं जा सकता। पुलिस को चेतावनी दी कि यदि कत्ल कांड के बाकी आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने के साथ साथ संघर्ष कर रहे साथियों पर दर्ज केस रद न किया तो वह तीखा संघर्ष करने से गुरेज नहीं करेगें।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!