जागरण संवाददाता, फरीदकोट

पर्यावरण की बिगड़ती स्थित से चितित पर्यावरण प्रेमियों द्वारा विधानसभा अध्यक्ष कुलतार सिंह संधवा से इस अहम मुद्दे पर विचार-विमर्श के लिए समय मांगा गया था, जिसे मंजूर करते हुए पर्यावरण प्रेमियों को बैठक के लिए 26 मई का समय मिल गया है, विधानसभा अध्यक्ष के साथ यह बैठक विधानसभा स्थित उनके कक्ष में होगी।

यह जानकारी देते हुए निरोआ पंजाब मंच के कंवीनर गुरप्रीत सिंह चंदबाजा ने बताया कि देश के औसत वनक्षेत्र के अनुकूल पंजाब में बेहद कम क्षेत्रफल में वनक्षेत्र है। इसके अलावा दरियाओं में फैक्ट्रियों का मलबा छोड़ा जा रहा है, जिससे उनमें प्रदूषण का स्तर और बढ़ रहा है। जो वनक्षेत्र प्रदेश में बचे भी है, उसकी नियमों को ताक पर रखकर कटाई हो रही है। प्रदेश के मालवा के हिस्से के अलावा दूसरे हिस्सों का भी जमीनी पानी तेजी से प्रदूर्षित हो रहा है, जमीनी पानी के प्रदूषित होने से तरह-तरह की गंभीर बीमारियां लोगों को अपनी चपेट में ले रही है। यह स्थित बेहद चिताजनक है, ऐसे में वह प्रदेश सरकार तक अपनी बात पहुंचाने के लिए विधानसभाध्यक्ष के साथ बैठक के लिए समय मांगा था, जो कि मिल गया है।

उन्होंने बताया कि बैठक में डा. इंद्रजीत कौर मुखी पिगलवाड़ा अमृतसर, ज्ञानी केवल सिंह पूर्व जत्थेदार तख्त श्री दमदमा साहिब, काहन सिंह पन्नू पूर्व आईएएस, केमिकल इंजीनियर जसकीरत सिंह, इंजीनियर कपिलदेव अरोड़ा, ज्ञानी गुरमीत सिंह, एडवोकेट जसमिदर सिंह, गुरविदर सिंह आदि प्रदेश के विभिन्न हिस्सों से पहुंचेंगे।

Edited By: Jagran