जागरण संवाददाता, फरीदकोट : बाबा फरीद आगमन पर्व पर बाबा फरीद सोसाइटी द्वारा, बाबा फरीद ईमानदारी एवार्ड आइएएस अधिकारी कुमार सौरभ राज और भगत पूरन मानवता एवार्ड से रिक्शाचालक राजबीर सिंह को माई गोदड़ी साहिब में संत काहन सिंह द्वारा प्रदान किया गया।

कोरोना काल में फरीदकोट के डीसी रहते हुए कुमार सौरभ राज ने ईमानदारी के साथ अपने दायित्वों का निर्वाहन किया था, वर्तमान समय में वह डायरेक्टर टेक्निकल एजुकेशन एंड इंडस्ट्रियल प्रशिक्षण पंजाब के ओहदे पर सेवा निभा रहे हैं, वह 2011 बैच के आइएएस अधिकारी है। वीरवार को कपूरथला में मुख्यमंत्री का समागम होने के कारण कुमार सौरभ राज एवार्ड हासिल करने के लिए नहीं पहुंच उनकी अनुपस्थित में उनकी पत्नी ज्योति सिंह ने सम्मान लेते हुए सभी लोगों का धन्यवाद किया, और इसे अपने लिए फक्र की बात कही। बाबा फरीद सोसाइटी द्वारा ईमानदारी एवार्ड हासिल करने वाले कुमार सौरभ राज अब तक के 33वें शख्सियत हैं।

इसी तरह से भगत पूरन मानवता एवार्ड अमृतसर निवासी रिक्शाचालक राजबीर सिंह को सोसाइटी द्वारा दिया गया। राजबीर सिंह रिक्शा चलाने के साथ ही मानवता की सेवा के लिए प्रयत्नशील रहते हैं, उन्होंने कई बच्चों व बड़ों की मदद की है, रिक्शाचालकों की उन्होंने कमेटी बना रखी है, उनकी मानवता की मिसाल पूरे अमृतसर में प्रसिद्ध है। मानवता एवार्ड से सम्मानित होने वाले पहले रिक्शाचालक राजबीर सिंह है। यह एवार्ड अब तक 28 लोगों को सोसाइटी द्वारा दिया जा चुका है।

बाबा फरीद संस्थाओं के चेयरमैन इंद्रजीत सिंह खालसा ने बताया कि बाबा फरीद आगमन पर्व पर यह दोनों दिए जाने वाले एवार्ड के लिए प्रदेश भर से आवेदन मिले थे, जिसमें से कमेटी द्वारा जांच-पड़ताल उपरांत यह एवार्ड कुमार सौरभ राज व और राजबीर सिंह को दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि दोनों पुरस्कारों के लिए 1-1 लाख रुपये नगद, प्रशंसा पत्र, शील्ड दिए गए।

Edited By: Jagran