संवाद सहयोगी, फरीदकोट :

यूथ कांग्रेस के जिलाध्यक्ष गुरलाल सिंह पहलवान की हत्या के मामले में वांछित गांव पंजगराईं कलां के गगनदीप बराड़ को पुलिस ने तीन दिन के रिमांड पर लिया है। गगनदीप को पंजाब पुलिस ने छह अप्रैल मंगलवार को हिमाचल प्रदेश की पुलिस के साथ संयुक्त आपरेशन के दौरान हिमाचल के कसौली से गिरफ्तार किया था। गिरफ्तारी के बाद आरोपित को ड्यूटी मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया जहां से उसे तीन दिन के रिमांड पर भेज दिया गया है।

पुलिस के अनुसार गगनदीप बराड़ भी गुरलाल पहलवान के हत्या की साजिश में शामिल रहा है। गगनदीप राजस्थान की अजमेर जेल में बंद गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई व कनाडा में रहते गोल्डी बराड़ के लिए काम करता है जोकि खुद भी इस केस में साजिशकर्ता है।

आरोपितों को शरण देने के बदले गोल्डी ने गगनदीप को दिए थे पैसे पुलिस की पड़ताल में सामने आया

था कि गुरलाल की हत्या की साजिश में गगनदीप बराड़ की भी अहम भूमिका रही। हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद उसने आरोपितों को पनाह भी दी थी। इसके एवज में उसे कनाडा में रह रहे गोल्डी बराड़ ने गुगल पे के माध्यम से भुगतान भी दिया था। हिमाचल से गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने आरोपी को अदालत में पेश किया और पूछताछ के लिए रिमांड की मांग रखी जिसके बाद अदालत ने उसे तीन दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया।

अभी भी पुलिस की पहुंच से दूर हैं दो शूटर

ज्ञात हो कि इसी वर्ष 18 फरवरी को शहर के जुबली सिनेमा चौक में यूथ कांग्रेस के जिला अध्यक्ष गुरलाल पहलवान की दो शूटरों ने अंधाधुंध गोलियां मारकर हत्या कर दी थी। इस केस में गगनदीप बराड़ से पहले आठ आरोपितों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इस केस के मुख्य साजिशकर्ता लारेंस बिश्नोई को पुलिस प्रोडक्शन वारंट पर लेना चाहती है, जबकि गोल्डी बराड़ कनाडा के भी ओपन वारंट जारी करवाए हुए है। वहीं गुरलाल हत्या मामले में शामिल दो शूटर पुलिस की पकड़ से दूर हैं।

क्या कहते हैं अधिकारी

सब इंस्पेक्टर सुरिन्दर कुमार ने बताया कि गगन बराड़ उर्फ पेड़ा को जालंधर पुलिस ने गिरफ्तार किया था, जिसको गुरलाल पलवान हत्या मामले में फरीदकोट लाया गया था जो मोबाइल फोन के माध्यम से विदेश बैठे मुख्य साजिश कर्ता गोल्डी बराड़ से निर्देश ले रहा था। पुलिस के अनुसार गोल्डी ने ही गुरलाल पलवान हत्या की हत्या में प्रयुक्त किए गए हथियार मुहैया करवाए थे। जिस की पूछताछ दौरान गगन बराड़ की निशानदेही पर प्वाइंट 32 बोर की एक देसी पिस्तौल और दो जिंदा कारतूस बरामद किए गए हैं। इस मामले में भी अवैध हथियार रखने के जुर्म में एक अलग से दर्ज किया गया है। उम्मीद है गगन से और बरामदगी हो सकती है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021