प्रदीप कुमार सिंह, कोटकपूरा

डेंगू तेजी से पैर पसार रहा है। सप्ताह भर में जिले में 36 नए मरीज पाए गए है और इनमें ज्यादातर संख्या कोटकपूरा शहर से है। डेंगू के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सेहत विभाग पूरी तरह से हरकत में दिखाई दे रहा है, मंगलवार को दैनिक जागरण में खबर प्रकाशित होने के बाद सेहत व परिवार भलाई विभाग के डायरेक्टर डा. ओपी गोजरा व डिप्टी डायरेक्टर डा. निशा सहाय ने कोटकपूरा व फरीदकोट सिविल अस्पताल का दौरा कर डेंगू वार्ड व दवाओं का निरीक्षण किया।

डायरेक्टर डा. ओपी गोजरा ने सिविल सर्जन और कोटकपूरा व फरीदकोट सिविल अस्पताल के एसएमओ के अलावा संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कर सभी को उचित कदम शीघ्र उठाने की हिदायत दी। डिप्टी डायरेक्टर डा. निशा सहाय ने डेंगू वार्ड में मरीजों को मिल रही दवाओं व दूसरी सुविधाओं पर विस्तारपूरक जानकारी ली। चंडीगढ़ से आए विभाग के दोनों बड़े अधिकारियों द्वारा मंगलवार को अलग-अलग समय में जिले का दौरा किया गया। दोनों अधिकारी जिला स्तर पर डेंगू बीमारी से लड़ने के किए गए प्रबंधों से संतुष्ट नजर आए।

गत वर्ष जिले में डेंगू के कुल 431 मामले प्रकाश में आए थे, परंतु गत वर्ष के मुकाबले इस बार अब तक यह संख्या मात्र 61 है। जिस प्रकार से पिछले छह दिनों में डेंगू के नए मरीज मिल रहे है, और इसका केन्द्रबिदु कोटकपूरा गत वर्ष की भांति इस वर्ष भी बना है। कोटकपूरा में डेंगू के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए दैनिक जागरण द्वारा अपने 12 अक्टूबर के अंक में यह खबर कोटकपूरा में एक सप्ताह में मिले 30 डेंगू मरीज जनहित में प्रकाशित की गई, और उस खबर का भी असर दिखाई दिया। खबर प्रकाशित होने के बाद फरीदकोट से लेकर चंडीगढ़ तक हलचल देखने को मिली।

सिविल सर्जन डाक्टर संजय कूपर, सहायक सिविल सर्जन डा. मनदीप कौर, एसएमओ डाक्टर गांधी, एसएमओ डा. चंद्रशेखर कक्कड़ और जिला एपिडिमोलाजिस्ट डाक्टर हिमांशु ने लोगों से सुबह-शाम फुल बाजू के कपड़े पहनने और अपने आसपास साफ-सफाई रखने की अपील की है।

Edited By: Jagran