जासं,फरीदकोट

कोरोना ने पिछले दिनों पूरी दुनिया में कहर बरपाया है, अब इसके नए वैरिएंट ओमिक्रोन ने हर किसी की चिता बढ़ा दी है। सिविल सर्जन फरीदकोट डा. संजय कपूर ने कहा कि कोरोना वायरस का यह नया रूप बेहद खतरनाक है, और हम सभी को इसे लेकर सतर्क रहने की जरूरत है। इसका एकमात्र समाधान यह है, कि शहरों और गांवों में 18 वर्ष से अधिक आयु के प्रत्येक निवासी का 100 प्रतिशत सुनिश्चित किया जाए।

उन्होंने कहा कि इस खतरनाक नए वायरस को रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग हर घर दास्तक अभियान के तहत घर-घर जाकर टीकाकरण के लिए निवासियों को प्रेरित कर रहा है, और मौके पर टीकाकरण भी किया जा रहा है। जिला मास मीडिया अधिकारी मीना कुमारी व उप मास मीडिया अधिकारी संजीव शर्मा ने बताया कि इस अभियान के तहत जिले के भीतर शत प्रतिशत कोरोना टीकाकरण सुनिश्चित करने के लिए प्रभावी योजना तैयार की गई है। अभियान का मुख्य उद्देश्य यह है कि जिले में 18 वर्ष से अधिक आयु का कोई भी व्यक्ति टीकाकरण से वंचित न रहे। इस अभियान के तहत स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और आशा कार्यकर्ताओं पर आधारित टीमें घर-घर जाकर उन लोगों की सूची तैयार कर रही हैं, जिन्हें कोरोना टीकाकरण नहीं हो पाता है और उन्हें टीकाकरण करवाने के लिए प्रेरित करते हुए उन्हें टीकाकरण केंद्रों तक लाना है।

उन्होंने उन लोगों से अपील की जो अभी तक कोरोना टीकाकरण नहीं करवा चुके हैं या फिर दूसरा आहार लेकर इस अभियान के तहत अपना टीकाकरण करवा लें।

Edited By: Jagran