जागरण संवाददाता, फरीदकोट : 2005 में लागू हुआ सूचना का अधिकार, आम जन को बेजोड़ ताकत देता है। सभी लोगों को इसका इस्तेमाल करना चाहिए, आपके द्वारा हासिल की गई सूचना या जानकारी से पूरे समाज का भला हो सकता है। यह कहना है कि फरीदकोट जिला कचेहरी में 1988 से वकालत की प्रैक्टिस करने वाले एडवोकेट मंगत अरोड़ा का। एडवोकेट अरोड़ा ने बताया कि उन्होंने अब तक सूचना के अधिकार का प्रयोग कर समाज हित में कई अहम जानकारियां जुटाने के साथ रूके हुए कार्यों को पूरा करवाया है। उन्होंने बताया कि 2006 में सूचना के अधिकार से मिली जानकारी से कोटकपूरा में एक लेक्चरर को वह नियुक्ति दिलाने में सफल रहे। अरोड़ा ने बताया कि उस समय प्रदेश के सत्ताधारी दल के दबाव में एक ऐसे व्यक्ति की नियुक्ति बतौर लेक्चरर हो रही थी, जो कि उसके योग्य नहीं था, उन्होंने ऐसे में सूचना के अधिकार के प्रयोग किया जिसके बाद पात्र महिला प्रत्याशी की नियुक्त हुई और सत्ताधारी के करीबी मंत्री के प्रत्याशी को जगह नहीं मिली।

इसी प्रकार से उन्होंने एक उच्च अधिकारी के विरूद्ध भी आरटीआइ दायर की। उनके द्वारा हासिल की गई जानकारी के बाद राज्य स्तर पर लोगों को सूचना मिली जिससे कई बड़े काम हुए। एडवोकेट अरोड़ा ने बताया कि सूचना का अधिकार बेहद अहम है, हम सभी को इसका प्रयोग करना चाहिए, ताकि हम खुद के साथ ही समाज के अन्य लोगों को भी न्याय दिला सके। यह भ्रष्टाचार रोकने में भी बेहद कारगर कदम है। इसलिए आओ हम सभी मिलकर इस अधिकार का ज्यादा से ज्यादा प्रयोग करें और दबे, शोषित लोगों की मदद करें।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!