संवाद सहयोगी, फरीदकोट

30 किसान संगठनों की तरफ से पंजाब भर में शुरू किए गए रेल रोको आंदोलन के तहत रविवार को फरीदकोट में आठ किसान संगठनों के नेताओं ने एकजुट होकर सूबा सरकार से दूसरे राज्यों से पंजाब आ रहे धान के ट्रकों को तुरंत रोकने की मांग की वहीं मालवा के जिलों में से धान के भरे ट्रक भी काबू किए।

भारतीय किसान यूनियन राजेवाल के जिला प्रधान बिंदर सिंह गोलेवाला, भारतीय किसान यूनियन सिद्धूपुर के चरनजीत सिंह और बोहड़ सिंह रुपया वाला, भारतीय किसान यूनियन कादियां के गुरमीत सिंह गोलेवाला, भारतीय किसान यूनियन क्रॉतिकारी के लाल सिंह गोलेवाला, भारतीय किसान यूनियन बहरू के दलीप सिंह ने कहा कि मंडियों में धान की खरीद सही नहीं की जा रही। धान की बोली कि एजेंसी इंस्पेक्टर की लाने की ड्युटी है परन्तु अधिकारी मंडी में नहीं आता जिस करके किसानों की लुट की जा रही है। उन्होंने कहा कि धान की बोली शैलर अधिकारी अपनी मर्जी से लगा रहे हैं। संगठनों ने फैसला किया है कि यदि बोली करवाने समय मंडी अधिकारियों समेत एजेंसी इंस्पेक्टर मौके पर मौजूद न हुआ तो तीखा विरोध करने के लिए किसान मजबूर होंगे। उन्होंने कहा कि जो शैलर मालिक दूसरे राज्यों से सस्ता धान शैलरों में स्टोर करते हैं, उन पर उचित कार्रवाई अमल में लाई जाए। कुछ दिन पहले श्री मुक्तसर और जैतों में दूसरे राज्यों से आए धान के ट्रक किसान जत्थेबंदियाँ की तरफ से पकड़ने के बावजूद यह रुझान जारी है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!