जागरण संवाददाता, फरीदकोट

शहर के अंदर व बाहरी हिस्सों में पेड़-पौधों को यदि किसी प्रकार का अब नुकसान पहुंचेगा तो तुरंत प्रभावी कार्यवाई पुलिस-प्रशासन की ओर से होगी। पर्यावरण प्रेमियों की मांग पर अब जिला प्रशासन द्वारा एडीसी को नोडल अधिकारी बना दिया गया है, जो कि प्रत्येक मंगलवार को संबंधित अधिकारियों व सीर सोसाइटी के सदस्यों के साथ बैठक कर शिकायतों व सुझावों की समीक्षा करेंगे।

सीर सोसाइटी के प्लांटेशन चेयरमैन संदीप अरोड़ा व नवदीप गर्ग ने बताया कि वह लोग लंबे समय से शहर को हरा-भरा बनाने की दिशा में काम कर रहे हैं। कुछ लोगों द्वारा शहर में लगाए गए पेड़ों को काटकर या फिर उसे जलाकर नुकसान पहुंचाया जा रहा है, जिससे पर्यावरण को नुकसान पहुंचा रहा है। ऐसी परिस्थित को देखते उनकी सोसाइटी द्वारा जिला प्रशासन से इस संदर्भ में सख्त कदम उठाने की मांग लगातार की जाती रही है, परंतु उस पर कार्यवाई न होने की सूरत में पर्यावरण प्रेमियों को 12 जून को डीसी आवास के समक्ष धरना-प्रदर्शन करने के साथ ही सड़क पर जाम भी लगाना पड़ा था। अब उनकी शिकायतों, समस्याओं व सुझावों को सुनने व उसके निपटारन के साथ सख्त कदम उठाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा एडीसी को नोडल अधिकारी बनाया गया है, जो कि प्रत्येक मंगलवार को उनके व संबंधित विभागों के साथ बैठक करते है।

संदीप ने बताया कि बीते मंगलवार को पर्यावरण प्रेमियों के साथ नोडल अधिकारी की हुई बैठक में पुलिस को पेडिग शिकायतों पर एक्शन लेने के निर्देश दिए गए थे, ऐसे में आने वाले मंगलवार को होने वाली बैठक में वह लोग देखेंगे कि नोडल अधिकारी यानी एडीसी के निर्देश पर पुलिस कितनी गंभीर हुई।

Edited By: Jagran