राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़। Bhagat Singh State Youth Award: पंजाब की भगवंत मान सरकार ने बलिदानी भगत सिंह के जन्म दिन पर बड़ी घोषणा की है। राज्‍य सरकार ने भगत सिंह राज्य युवा पुरस्कार को शुरू करने का फैसला लिया है। मुख्यमंत्री भगवंत मान के निर्देशों पर युवा सेवाएं विभाग ने पुरस्कार के लिए राज्य के नौजवानों से आवेदन मांगे हैं।

कई साल से रुका हुआ था यह पुरस्‍कार 

खेल और युवा सेवाएं मंत्री गुरमीत सिंह मीत हेयर ने कहा कि नौजवानों को राज्य के विकास में हिस्सेदार बनाने और उनके सशक्तिकरण के लिए कई सालों से रुके इस पुरस्कार को फिर शुरू किया गया है। राज्य सरकार भगत सिंह की सोच को आगे ले जाने और नौजवानों को राज्य के नेतृत्व के लिए तैयार करने के लिए निरंतर कोशिशें कर रही है। इसके निष्कर्ष के तौर पर यह बड़ा फैसला लिया गया है।

मीत हेयर ने बताया कि पुरस्कार के लिए योग्य विभाग के पास 30 नवंबर तक आवेदन कर सकते हैं। विभाग इनकी जांच करके सबसे काबिल और सर्वोत्तम मेरिट वाले हर जिले में से 2 नौजवानों जिनकी उम्र 15 से 35 साल के बीच हो, का चयन किया जाएगा। राज्य में से कुल 46 नौजवानों को यह पुरस्कार दिया जाएगा।

इस पुरस्कार में 51 हजार रुपये की नगद राशि, एक मेडल, एक स्क्रोल, एक ब्लेजर और एक सर्टिफिकेट के साथ सम्मानित किया जायेगा। नौजवानों को यह पुरस्कार भगत सिंह के बलिदान दिवस 23 मार्च मौके पर दिए जाएंगे।युवा सेवाएं मंत्री ने बताया कि भगत सिंह राज्य युवा पुरस्कार देने की शुरुआत 1985 में से गई थी। लेकिन यह अवार्ड कई सालों से नहीं दिया गया।

उन्‍होंने कहा कि इस अवार्ड के लिए युवा कल्याण गतिविधियों, एनसीसी, एनएसएस, सामाजिक सेवाएं, सभ्याचार गतिविधियों, खेल, ट्रेकिंग, राष्ट्रीय एकता, खूनदान, नशों के विरुद्ध जागरूकता, शैक्षिक योग्यता, बहादुरी के कारनामे, स्काउट्स और गाइडिंग और साहसी गतिविधियों में हिस्सा लेने वाले नौजवानों में से उनकी मेरिट अनुसार चयन करके यह अवार्ड दिया जाएगा।

Edited By: Sunil kumar jha

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट