मोहाली, जेएनएन। फेज-10 में फौजी कैंटीन के सामने रविवार रात पौने 12 बजे बैक हो रहे रोड रोलर ने पीछे आ रही रेहड़ी के चालक को कुचल दिया। हादसे में मौके पर ही आठ महीने की बच्ची के पिता की मौत हो गई। मृतक की पहचान संदीप (23) निवासी मकान नंबर-2577, सेक्टर-56, चंडीगढ़ के रूप में हुई है। फेज-11 पुलिस ने मृतक के परिजनों के प्रदर्शन के बाद रोड रोलर चालक गौतम कुमार निवासी गांव झंजेड़ी, खरड़ को गिरफ्तार कर लिया है। मृतक संदीप के भाई कुलदीप ने बताया कि संदीप की मौत के बाद उसके पीछे आ रहे दोस्त सोनू ने उसे फोन पर हादसे की जानकारी दी। जिसके बाद पूरा परिवार मौके पर पहुंचा। उनका आरोप है कि मौके पर मौजूद पीसीआर मुलाजिमों ने संदीप की लाश इसलिए अस्पताल ले जाने से मना कर दिया कि खून से लथपथ लाश के कारण उनकी गाड़ी गंदी हो जाएगी। इस कारण शव पांच घंटे वहीं पड़ा रहा।

स्प्रिंग रोल व नूडल्स की रेहड़ी लगाता था मृतक

बाहर मृतक संदीप के पिता जोगिंदर ने बताया कि उनकी चार बेटियां व दो बेटे हैं। संदीप सबसे छोटा है जिसकी 2 साल पहले शादी हुई थी और उसकी आठ महीने की बेटी है। संदीप शहर में लगने वाली मंडी में स्प्रिंग रोल व नूडल्स की रेहड़ी लगाता है। रविवार शाम फेज-11 में मंडी लगी हुई थी और वह देर रात पौने 12 बजे वहीं से आ रहा था। फेज-10 फौजी कैंटीन के पास सड़क की कारपेटिंग का काम चल रहा है। जहां रोड रोलर बैक हो रहा था जिसने पीछे आते समय संदीप पर रोड रोलर चढ़ा दिया। जिस कारण संदीप का सिर फटने से दिमाग बाहर आ गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने गाड़ी गंदी न हो जाए, इस कारण शव नहीं उठाया। ऐसा रवैया देखकर परिजनों ने सड़क जाम कर नारेबाजी शुरू कर दी।

पुलिस पर लगे चालक को बचाने के आरोप

परिजनों ने आरोप लगाया कि पहले पुलिस ने रोड रोलर चालक को मौके से भगा दिया। परंतु परिजनों ने पुलिस को चेतावनी दी कि अगर रोड रोलर चालक को पकड़कर अभी मामला दर्ज नहीं किया तो वे लाश को नहीं उठाने देंगे। गुस्साए मृतक के परिजनों ने साइकिल, रेहड़ी व अन्य सामान से रास्ता बंद कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। जिसके बाद एसएचओ फेज-11 ने उन्हें बताया कि चालक को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। उसके बाद जाम खोला गया।

मृतक के परिजनों ने ही लाश उठाने नहीं दी थी। उनकी मांग थी कि जब तक रोड रोलर चालक को गिरफ्तार नहीं किया जाता तब तक वह लाश उठाने नहीं देंगे। वहीं, अगर किसी पीसीआर चालक ने गाड़ी गंदी होने की बात कही है तो वे उन्हें सुबूत दे। गलती करने वाले मुलाजिम को सस्पेंड किया जाएगा।

-कुलबीर सिंह, एसएचओ, फेज-11

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!