चंडीगढ़, जेएनएन। World Blood Donor Day: विश्व रक्तदाता दिवस के अवसर पर सोमवार को पीजीआइ चंडीगढ़ (PGI Chandigarh) के जाकिर हॉल में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। पीजीआइ निदेशक प्रोफेसर जगतराम ने रक्तदान शिविर का उद्घाटन किया। यह रक्तदान शिविर थैलेसेमिक चैरिटेबल ट्रस्ट की ओर से आयोजित किया गया। शिविर में सुबह 10 बजे तक 50 लोगों ने रक्तदान किया। इस अवसर पर पीजीआइ निदेशक प्रोफ़ेसर जगतराम ने शिविर में रक्तदान करने पहुंचे लोगों को बैच लगाकर और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। साथ ही रक्तदान शिविर में पहुंचे लोगों से बातचीत की और उन्हें इस प्रकार के सामाजिक कार्यों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने के लिए जागरूक किया।

वही ट्रस्ट की ओर से गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल सेक्टर-32 में नहीं रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया इस दौरान जीएमसीएच 32 में रक्तदान शिविर का उद्घाटन डायरेक्टर प्रिंसिपल डॉक्टर जसविंदर कौर ने किया। जीएमसीएच-32 में 10 बजे तक 32 लोगों ने रक्तदान किया डायरेक्टर प्रिंसिपल डॉक्टर जसविंदर कौर ने शिविर में आज लोगों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया और वहीं थैलेसेमिक चैरिटेबल ट्रस्ट के मेंबर सेक्रेटरी राजेंद्र कालरा को इस आयोजन के लिए बधाई दी। ट्रस्ट की ओर से कोरोना महामारी के दौरान अब तक 36 रक्तदान शिविर आयोजित किए जा चुके हैं। इसके अलावा जब से अटेस्ट बनी है तब से 220 ब्लड डोनेशन कैंप लगाए जा चुके हैं।इन कैंप के जरिए ट्रस्ट अब तक पीजीआइ और जीएमसीएच 32 को 3 हजार से अधिक ब्लड यूनिट डोनेट कर चुका है।

ट्रस्ट 450 थैलेसीमिया के मरीजों का कर रहा इलाज

ट्रस्ट के मेंबर सेक्रेट्री राजेंद्र कालरा ने बताया कि वे थैलेसीमिया के 450 मरीजों का निशुल्क इलाज मुहैया करा रहे हैं। इन मरीजों का हर 15 से 20 दिन पर ब्लड ट्रांसफ्यूजन की जरूरत पड़ती है जो कि ट्रस्ट की ओर से पीजीआई और जीएमसीएच 32 के ब्लड बैंक के सहयोग से उपलब्ध कराया जाता है। इसके अलावा इन मरीजों के लिए अलग से डे केयर सेंटर बनाए गए हैं जहां इन मरीजों के इलाज के साथ निशुल्क दवाइयां भी उपलब्ध कराई जाती है।

 

Edited By: Ankesh Thakur