मनीमाजरा, जेएनएन। माड़ी वाला टाउन स्थित मकान में कुल्हाड़ी से पत्नी का गला काटकर हत्या करने वाले आरोपित को वीरवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपित यह जानने आया था कि पत्नी की मौत हुई है या सिर्फ उसके मरने की अफवाह फैली है। वह मनीमाजरा में ही पेट्रोल पंप के समीप स्थित जंगल में छिपा था। आरोपित जरनैल सिंह को पुलिस ने पूछताछ के लिए दो दिन के रिमांड पर लिया है।

चार फरवरी को सुबह साढ़े चार बजे मनीमाजरा के माड़ी वाला टाउन स्थित पुस्तैनी मकान नंबर-2476 के ग्राउंड फ्लोर पर जरनैल सिंह ने अपनी पत्नी 42 वर्षीय मनजीत कौर की हत्या कर दी थी। उसी कमरे में उसका 12 वर्षीय बेटा सुखविंदर उर्फ सुखा और 14 वर्षीय बेटी स्नेहा भी सो रहे थे। मां की चीख सुनने के बाद दोनों की नींद खुलने पर लाइट ऑन होते ही आरोपित कुल्हाड़ी फेंककर मौके से फरार हो गया था। इसके बाद बच्चों ने बाहर आकर पड़ोसियों को जानकारी दी।

घरों में काम कर परिवार चलाती थी पत्नी, पति को उसके चरित्र पर था शक

पुलिस के अनुसार हत्यारोपित जरनैल ¨सह शराब पीकर अक्सर पत्नी से झगड़ा करता था। दोनों की 23 वर्ष पहले शादी हुई थी और पांच साल बाद एक बेटी की मौत हो गई थी। डेढ़ साल पहले बड़ी बेटी की शादी हुई थी। बेटा सुख¨वदर और बेटी स्नेहा के साथ रहते थे। मनजीत कौर लोगों के घर में घरेलू काम कर परिवार का पालन पोषण करती थी। आरोपित ने पूछताछ में बताया कि पत्नी के दूसरे लोगों के साथ अवैध संबंध थे। मना करने पर भी वह दूसरे के घराें में काम करना नहीं छोड़ रही थी।

वारदात को अंजाम देने के बाद कुराली में रहा हत्यारोपित

जरनैल सिंह ने पुलिस को बताया कि उसने पत्नी की हत्या करने का मन पहले ही बना लिया था। मौका मिलते ही उसने वारदात को अंजाम दिया। इसके बाद वह कई दिन कुराली में रहा। मगर उसे संदेह था कि पत्नी की मौत हुई या लोग अफवाह फैला रहे हैं। इसका पता लगाने के लिए ही वह मनीमाजरा आया था।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!