जेएनएन,चंडीगढ़/जालंधर। तापमान में अचानक बढ़ोतरी होनी शुरू हो गई है। हालांकि आज शनिवार को चंडीगढ़, पंजाब व हरियाणा के कुछ इलाकों में बादल छाए हुए हैं, लेकिन गर्मी से फिलहाल कुछ दिनों तक राहत नहीं मिने वाली। आठ वर्षों के बाद मई के तीसरे पडाव में तापमान 42 डिग्री का आंकड़ा पार कर गया। इससे पूर्व मई 2012 के मध्यांतर से अधिकतम तापमान 40 सेल्सियस तक पहुंचा था।

बात अगर पंजाब, चंडीगढ़ और हरियाणा की करें तो तीनों जगह लॉकडाउन 4.0 शुरू होते ही तापमान में बढ़ोतरी शुरू हो गई थी, लेकिन शुक्रवार को तापमान बीते दिनों के मुकाबले अचानक ही बढ़ गया। मौसम विभाग के निदेशक सुरेंद्र पाल शर्मा ने बताया कि मई महीने में इतना तापमान रहना आम बात है। पहले लॉकडाउन के चलते लोग घरों में ही बंद थे। किसी भी तरह का पर्यावरण प्रदूषण नहीं हो रहा था, लेकिन जब से लॉकडाउन में ढील दी गई है और पर्यावरण प्रदूषित होना शुरू हुआ है तो मौसम पर भी इसका असर देखने को मिल रहा है।

उन्होंने बताया कि हरियाणा और पंजाब के कुछ इलाकों में अगले 48 घंटों में मौसम में कुछ बदलाव देखने को मिल सकता है। कई जगह आसमान में बादल छाए रहेंगे। गत दिवस पंजाब का अधिकतम तापमान पहुंचा 43 डिग्री तो हरियाणा के नारनौल में 45.4 डिग्री किया दर्ज, मौसम विभाग के निदेशक ने कहा कि मई महीने में इतना तापमान रहना आम बात है।

लू के पड़ रहे थपेड़े

चंडीगढ़ में बीते वीरवार को अधिकतम तापमान 39.7 डिग्री दर्ज किया गया था, लेकिन शुक्रवार को शहर का तापमान बढ़कर 41.9 डिग्री पहुंच गया। हवा गर्म हवाओं ने लोगों को परेशान किया। वहीं, एयरपोर्ट एरिया पर अधिकतम तापमान 42 डिग्री पहुंच गया।

पंजाब

शहर अधिकतम तापमान

अमृतसर 43

लुधियाना 43

पटियाला 42.6

हरियाणा

शहर अधिकतम तापमान 

नारनौल 45.4

हिसार 44.9

अंबाला 42.8

यह भी पढ़ें: अवैध शराब मामले पर घिरी सरकार, खुफिया तंत्र फेल या नेताओं, प्रशासन पर माफिया भारी

यह भी पढ़ें: कांस्टेबल बेटी ने दिखाई पिता को खाकी की ताकत, लव मैरिज का विरोध करने पर खोल दी पोल

यह भी पढ़ें: Technology का इस्तेमाल, Digital india में दिखी हरियाणा के डिजिटल गांव की झलक

यह भी पढ़ें: Corona Effect: स्कूलों में कम हो सकती है बच्चों की संख्या, श्रमिकों के पलायन से मार

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!