जेएनएन, चंडीगढ़। Coronavirus Lockdown में कई तरह से रिकार्ड बने हैं। पहली बार इंडस्ट्री व दुकानें इतने लंबे समय तक बंद हैैं। रेलवे के पहिये थमे हुए हैं। सार्वजनिक परिवहन भी पूरी तरह से बंद है। लेकिन इस सबके बीच जो अच्छी खबर है वह है हमारे आसपास के वातावरण को लेकर। पिछले एक माह से अधिक समय में प्रदूषण स्तर गिरा है। लोग स्वच्छ हवा में सांस ले रहे हैं। इस दौरान मौसम ने भी अपना रिकार्ड तोड़ दिया। 

चंडीगढ़ में गत दिवस तापमान ने पिछले कईं वर्षों के रिकॉर्ड तोड़ दिए। यही नहीं, शहर का तापमान पंजाब से भी कम रहा। वहीं, हरियाणा में अंबाला जिलेे को छोड़ बाकी पूरे राज्य का तापमान चंडीगढ़ से ज्यादा ही रहा। शहर का तापमान सोमवार को इतना कम रहा जैसे कि फरवरी माह चल रहा हो। शहर में सुबह से आसमान में बादल छाए रहे। इसके साथ ही कईं इलाकों में हल्की बारिश भी हुई। ठंडी हवा का आनंद लेने के लिए लोग घरों की छत पर दिखाई दिए।

मौसम विभाग के निदेशक सुरेंद्रपाल शर्मा ने बताया कि वेस्टर्न डिस्टर्बेस एक्टिव होने की वजह से बारिश हो रही है। पहाड़ी एरिया में ज्यादा बारिश और हवा चलने की वजह से शहर के तापमान में गिरावट आई है। आने वाले दिनों में भी शहर में बारिश देखने को मिल सकती है। हरियाणा और पंजाब से भी रहा तापमान कम मंगलवार को शहर का अधिकतम तापमान 26.4 डिग्री दर्ज किया गया जो सामान्य से 10 डिग्री कम रहा, लेकिन शहर का तापमान पंजाब और हरियाणा के मुकाबले भी कम रहा। पंजाब का अधिकतम तापमान 31 डिग्री दर्ज किया गया, वहीं हरियाणा में अगर जिला अंबाला (26 डिग्री) को छोड़ दिया जाए तो पूरे राज्य का तापमान 35 डिग्री के करीब रहा। शहर में मंगलवार शाम तक कुल एक एमएम बारिश ही दर्ज की गई।

यह भी पढ़ें: अमेरिका में भारत की डॉक्टर बेटी हुई संक्रमित, आइसोलेट होकर खुद हुई ठीक, फिर जुटी इलाज में

 

यह भी पढ़ेंरेलवे ने तोड़ा अपना ही रिकार्ड, अब 116 डिब्बों की अन्न से भरी दो मालगाड़ियां दौड़ाई

यह भी पढ़ें: एक क्लिक पर डॉक्टर, राशन, पास, वित्तीय मदद सहित कई सुविधाएं, सरकार ने किया एप लांच

यह भी पढ़ें : COVID-19 पर हल्ला बोल, संदिग्ध मरीज की भीड़ में भी हो जाएगी पहचान, IIT ने बनाई डिवाइस 

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!