चंडीगढ़, [वेब डेस्क]। जैन मुनि तरुण सागर पर आपत्तिजनक टिप्पणी करके विवादों में फंसे संगीतकार और पूर्व आप नेता विशाल ददलानी आज चंडीगढ़ में जैन मुनि तरुण सागर से मुलाकात की। ददलानी ने अपनी आपत्तिजनक टिप्पणी के लिए जैन मुनि से माफी मांगी। ददलानी ने पिछले दिनों हरियाणा विधानसभा में जैन मुनि के प्रवचन करन पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। इसके बाद इस मामले ने तूल पकड़ लिया था। जैन मुनि ने विशाल ददलानी को तो माफ कर दिया, लेकिन तसीन पूनावाला को माफ नहीं किया। पूनावाला अाज यहा नहीं आए थे।

ददलानी के सोशल मीडिया पर इस बारे में टिप्पणी करने के बाद इस मामले ने तूल पकड़ लिया था। इसके बाद उनकी चारों ओर जबरदस्त खिंचाई हुई थी। इस विवाद में आम आदमी पार्टी भी घिर गई थी। 'आप' की ओर से दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन ने जैन मुनि से मिलकर माफी मांगी थी।

पढ़ें : जैन मुनि तरुण सागर ने विधायकों को पिलाई राजनीति के शुद्धिकरण की कड़वी घुट्टी

विशाल ददलानी पर अंबाला में जैन मुनि के खिलाफ टिप्पणी से जैन समुदाय के लाेगों की धार्मिक भावनाएं आहत करने का मामला भी दर्ज हुआ है। ददलानी को इस मामले में गिरफ्तारी पर रोक लगाने के लकर दायर याचिकाओं पर राहत नहीं मिली। वह जैन मुनि के सेक्टर 27 स्थित जैन स्थानक में बुधवार को पहुंचे और जैन मुनि से माफी मांगी।

जैन स्थानक पहुंचने पर ददलानी का स्वागत करते संस्था के पदाधिकारी।

ददलानी ने जैन मुनि से कहा कि उन्हें ऐसी टिप्पणी करने पर बेहद दुख और खेद है। वह ऐसी भूल फिर कभी नहीं करेंगे। उन्होंने जैन मुनि से हाथ जोड़ कर माफी मांगी। जैन मुनि ने भी उन्हें माफ कर दिया और कहा कि वह पहले ही इस प्रकरण को अपनी ओर से खत्म कर चुके हैं। जैन मुनि ने कहा कि जैन धर्म क्षमा का बहुत महत्व है और इसी कारण उनके मन में कोई मलाल नहीं है।

फोटो गैलरी : संगीतकार विशाल ददलानी ने जैन मुनि से मांगी माफी, देखें तस्वीरें

ददलानी ने जैन मुनि से जैन परंपरा के अनुरूप पंचमाफी मांगी। उन्होंने मुनिश्री के समक्ष कहा- मैं हाथ जोड़कर माफी मांगता हूं। दूसरा सिर झुकाकर माफी मांगता हूं। तीसरा मैं दिल से माफी मांगता हूं। चौथा मैं कान पकड़कर माफी मांगता हूं। पांचवां कभी किसी संत पर ऐसी गलत टिप्पणी नहीं करूंगा।

पढ़ें : रेलवे में नौकरी पाना चाहते हैं तो पहले पढ़ लें यह खबर

इससे पहले ददलानी का जैन स्थानक पहुंचने संस्था के पदाधिकारियों ने उनका स्वागत किया अौर उनको जैन मुनि के पास ले गए। ददलानी ने जैन मुनि से काफी देर तक बात की और जैन धर्म के बारे में अपनी अज्ञानता के लिए खेद जताया। जैन मुनि ने उन्हें जैन धर्म की उच्च मर्यादाें, परंपराओं और तौर-तरीकों के बारे में संक्षिप्त जानकारी भी दी।

पढ़ें : जैन मुनि तरुण सागर से मिले दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन, ददलानी भी माफी मांगने आएंगे

इसके साथ ही जैन मुनि तरुण सागर ने जैन समुदाय के लोगों से अपील की कि वह ददलानी के खिलाफ दर्ज कराए गए सभी केस वापस ले लें। ददलानी ने इस मौके पर यह भी कहा कि भविष्य में वह कभी ऐसी गलती नहीं करेंगे। विशाल ददलानी ने खुद को माफ करने के लिए मुनिश्री तरूण सागर का धन्यवाद किया। विशाल ददलानी को अंबाला पुलिस थाने में जाकर 12 बजे तक अपनी स्टेटमेंट भी दर्ज करानी है।

बाद में पत्रकारों ने बातचीत में विशाल ददलानी ने कहा कि जैन मुनि ने उन्हें माफ कर दिया। उन्होंने कहा, यह पूरा प्रकरण मेरे लिए बेहद दुख पहुंचाने वाला अाैर जीवन का बड़ा सबक देने वाला था। वह पूरे जैन समाज से अपनी गलती के लिए माफी मांगते हैं।

पढ़ें : मां कैसे हो गई इतना कठोर, पति से हुआ झगड़ा तो मासूम बेटियों के साथ किया ऐसा...

विशाल ने कहा कि सोशल मीडिया पर कई बार मैसेज और पोस्ट का गलत मतलब निकाला जाता है। इस मामले में भी ऐसा ही हुआ, लेकिन इसके बावजूद में दिल से माफी मांगता हूं और आश्वस्त करता हूं कि अब मेरी ओर से ऐसी गलती फिर नहीं होगी। इस मामले को अब यहीं खत्म कर दिया जाना चाहिए और इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए।

विशाल ने कहा कि जैन मुनि उन्हें माफी दी अाैर जैन धर्म से संबंधित कुछ पुस्तकें भी दीं। आम आदमी पार्टी से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा कि वह न तो किसी के कहने पर 'आप' में शामिल हुए थे अौर अब न किसी के कहने पर इससे अलग हुए हैं।

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!