आनलाइन डेस्क, चंडीगढ़। सेक्टर-17 बस स्टैंड में लावारिस बैग मिलने से हड़कंप मच गया। बुधवार सुबह करीब 8.15 बजे किसी ने पुलिस कंट्रोल रूम में आइएसबीटी-17 में लावारिस बैग मिलने की सूचना दी। सूचना मिलने के तुरंत बाद आनन फानन में सेक्टर-17 बस स्टैंड चौकी पुलिस मौके पर पहुंची। बस स्टैंड के टिकट काउंटर के पास लाल रंग का एक सूटकेस पड़ा था। पुलिस ने तुरंत बम स्क्वायड और डाग स्क्वायड को इसकी सूचना दी।

पुलिस ने पूरे एरिया को सील कर दिया। बस स्टैंड पर भारी पुलिस देख वहां यात्रियों में हड़कंप मच गया। लावारिस सूटकेस हरियाणा दिल्ली काउंटर के पास मिला था। इसके बाद पुलिस ने यात्रियों को बस स्टैंड की दूसरी तरफ भेजकर वहीं रोक दिया। वहीं पूरे काउंटर को खाली करवा दिया गया। पुलिस ने चारों तरफ जवानों को तैनात कर दिया। इसके बाद मौके पर पहुंची डाग व बम स्क्वायड की टीम ने सर्च आपरेशन चलाया। इसके बाद पुलिस ने सूटकेस को खोला जिसमें विस्फोटक नहीं मिला। सूटकेस में कपड़े व अन्य सामान मिला है। इसके बाद पुलिस और यात्रियों ने राहत की सांस ली।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक बस स्टैंड पर यह सूटकेस उत्तराखंड के युवक का छूट गया है। पुलिस ने जब सूटकेस खोला तो उसमें से युवक के ओरिजनल डाक्यूमेंट्स और कुछ पुराने कपड़े मिले हैं। यह सूटकेस उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले के कनारीठोर के रहने वाले हरिश चंद्र है। दस्तावेजों के आधार पर पुलिस ने युवक हरिश चंद्र के भाई दिनेश से संपर्क किया। दिनेश ने बताया कि उसका भाई 25 वर्षीय हरिश चंद्र चंडीगढ़ गया था और हो सकता है कि वहां से लौटते वक्त वह अपना सूटकेस बस स्टैंड पर भूल गया है।

बता दें कि एक दिन पहले ही सेक्टर 35 सी निवासी कारोबारी सुनील बजाज के घर एक अज्ञात युवक कुरियर ब्वाय बनकर गन प्वाइंट पर लूट करने आया था, उसने भी एक लावारिस बैग बाउंड्री के अंदर छोड़ा था। इसके बाद से पुलिस आरोपित की तलाश में लगी है।

Edited By: Ankesh Thakur

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट