जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। शहर में मोबाइल चोरी करने वाले गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। पुलिस ने गिरोह के दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है। आरोपित सेक्टर-17 बस स्टैंड पर यात्रियों के मोबाइल फोन चोरी करते थे। आरोपित इतने शातिर तरीके से वारदात को अंजाम देते थे कि किसी को उनकी भनक तक नहीं लगती थी। वाले गिरोह के दो आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपितों की पहचान सेक्टर-56 के रहने वाले ईशान मोहम्मद और मनीमाजरा के रहने वाले सोनू उर्फ काका के रूप में हुई है। पुलिस ने दोनों की निशानदेही पर चोरी के सात मोबाइल सहित तीन बिना बिल वाले मोबाइल की बरामद किया हैं। सेक्टर-17 थाना पुलिस ने ईशान को कोर्ट में पेश कर दो दिन के रिमांड पर पूछताछ करने में लगी है। 

सेक्टर 17 थाना प्रभारी राम रतन शर्मा ने बताया कि महेंद्रगढ़ निवासी संदीप किसी काम से सेक्टर-17 बस अड्डा से आया था। बस स्टैंड पर किसी ने उसका बैग चोरी कर लिया। पीड़ित संदीप की शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपितों की तलाश शुरू कर दी। जांच के दौरान पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार किया। जांच में यह भी पता चला है कि आरोपित मोबाइल फोन चोरी करने के बाद आगे सस्ते दाम पर बेच देते थे। आरोपित इतने शातिर थे कि वह किसी दुकान या ऐसे व्यक्ति को चोरी के मोबाइल नहीं बेचते थे जिससे उनके पकड़े जाने की संभावना हो। बदमाश चोरी किए मोबाइल को रेहड़ी फड़ी वालों को बेचते थे, ताकि वह पकड़े न जाएं। 

पहले भी हुई ऐसी गिरफ्तारी

इससे पहले भी चंडीगढ़ पुलिस ने इसी तरह की वारदात करने वाले एक आरोपी को गिरफ्तार किया था। वह आरोपित सेक्टर 43, सेक्टर 17 बस अड्डा सहित पीजीआई परिसर में भी मरीजों के तीमारदार से मोबाइल और नकदी चोरी कर लेता था।

Edited By: Ankesh Thakur