मोहाली, जेएनएन। भगवा चोला डालकर घूम रहे एक बच्चा चोर गिरोह के सदस्य ने गांव बहलोलपुर में घर के बाहर खेल रहे चार साल के मासूम प्रशांत को मौका देखकर झोले में डाल लिया। इससे पहले जोगी (बाबा) का रूप धारण किए चोर वहां से निकल पाता, झोले में बच्चे ने जोर-जोर से रोना शुरू कर दिया। बच्चे के रोने की आवाज सुनकर लोग इकट्ठा हुए तो जोगी ने खुद को फंसता हुआ देख बच्चे सहित झोला वहां छोड़ा और मोटरसाइकिल पर फरार हो गया। लोगों ने मामले की सूचना बलौंगी पुलिस को दी।

मौके पर पहुंचे एसएचओ मनफूल सिंह ने लोगों से जोगी का हुलिया पता कर उसकी तलाश शुरू की। करीब दो से ढाई घंटे बाद पुलिस ने गांव बहलोलपुर में ही जोगी को एक ईटों के चट्टे में छिपे हुआ खोज निकाला। आरोपित की पहचान अजय नाथ निवासी दोराहा, जिला लुधियाना के रूप में हुई है। पुलिस ने अजय के खिलाफ आइपीसी की धारा-363, 511 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। आरोपित अजय को शनिवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

पहले की रेकी फिर बच्चे को केले का दिया लालच
पुलिस से मिली जानकारी अनुसार अजय नाथ शुक्रवार को अपने मोटरसाइकिल पर गांव बहलोलपुर पहुंचा। जहां उसने पहले करीब पौना घंटा गांव में बने घरों की रेकी की। फिर उसे एक घर के बाहर प्रशांत खेलता हुआ नजर आया। प्रशांत के आसपास कोई नहीं था अजय भगवा चोला डालकर जोगी बना हुआ था। उसने प्रशांत के पास जाकर केले का लालच दिया। जैसे ही प्रशांत ने केला हाथ में पकड़ा जोगी ने उसे झोले में डाल लिया और अपने मोटरसाइकिल पर फरार होने लगा। परंतु जैसे ही उसने मोटरसाइकिल स्टार्ट किया, झोले में प्रशांत जोर-जोर से रोने लगा और लोगों को जोगी पर शक हो गया। जोगी को लगा कि अब वह फंसने वाला है। इसलिए वह झोले में पड़े प्रशांत को मौके पर ही छोड़कर भाग गया। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। लोगों की सूचना पर गांव बहलोलपुर जाकर एक ढोंगी जोगी को गिरफ्तार किया है। उसके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

हमें शक है कि जोगी अकेला नहीं है बल्कि किसी बच्चा चोर गिरोह का सदस्य है। उसका क्रिमिनल बैकग्राउंड भी पता किया जा रहा है। शनिवार को कोर्ट में पेश कर रिमांड लिया जाएगा।
-मनफूल सिंह, एसएचओ, थाना बलौंगी।


हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!