विकास शर्मा, चंडीगढ़। फेस्टिवल सीजन में एक बार फिर प्रवासियों के सामने घर जाना बड़ी चुनौती हो गई है। चंडीगढ़ से चलने वाली सद्भावना एक्सप्रेस (चंडीगढ़ से लखनऊ), ऊंचाहार एक्सप्रेस (चंडीगढ़ से प्रयागराज), कालका मेल (कालका से हावड़ा ), चंडीगढ़-पाटलीपुत्र एक्सप्रेस में दिवाली तक तक स्पीलर क्लास की एडवांस बुकिंग चल रही है। यह हालत चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन से चलने वाली ट्रेनों का नहीं है, बल्कि अमृतसर और अंबाला से जाने वाली ट्रेनों में भी है। इससे इन राज्यों को जाने वाले लोग खासे परेशान हैं।

रेलवे की तरफ से इस बार अभी तक एक स्पेशल ट्रेन चलाई गई है। इस बार रेलवे की तरफ से गाड़ी संख्या 01655-56 चंडीगढ़-गोरखपुर स्पेशल ट्रेन का संचालन 20 अक्टूबर से 11 नवंबर तक किया जाएगा। साप्ताहिक विशेष ट्रेन वाया अंबाला कैंट, सहारनपुर, मुरादाबाद, लखनऊ चलाई जाएगी।

यह ट्रेन वीरवार को चंडीगढ़ से और शुक्रवार को गोरखपुर से कुल 4 ट्रिप, कंपोजिशन एचए-1, टू टियर एसी-2, ट्री टियर एसी-6, स्लीपर- 6, जनरल/सेकंड सिटिंग- 4 कोच के साथ चलेगी। यह ट्रेन चंडीगढ़ से 23:20 बजे प्रस्थान करेगी और 18:20 बजे गोरखपुर पहुंचेगी। जबकि गोरखपुर से 22:10 बजे प्रस्थान करेगी और 14:10 बजे चंडीगढ़ पहुंचेगी। इसमें भी टिकट उपलब्ध नहीं है।

स्पेशल ट्रेनों में लंबी वेटिंग लिस्ट

गोरखपुर जाने वाले शशांक गर्ग का कहना है कि कई ट्रेनों में फर्स्ट क्लास एसी या सेकेंड क्लास एसी की वेटिंग लिस्ट कम है, इससे टिकट मिलने की संभावना बढ़ जाती है, लेकिन वह परिवार के साथ इसमें सफर नहीं कर सकते हैं। क्योंकि इतना उनका बजट नहीं है। हम साल सालभर इंतजार करते हैं कि दिवाली और छठ पूजा पर घर जाएंगे, लेकिन अन्य ट्रेनों के अलावा स्पेशल ट्रेनों में लंबी वेटिंग लिस्ट चल रही है। रेलवे को चाहिए कि वह लोगों की परेशानी को समझते हुए जल्द इस रूट तीन से चार अतिरिक्त स्पेशल ट्रेनें चलाए, ताकि लोग अपनों के साथ त्योहार मना सकें।

लोगों की परेशान की समझे रेलवे

उत्तर प्रदेश के रहने वाले बिरजु ने बताया कि ट्राईसिटी और हिमाचल प्रदेश के बद्दी इंडस्ट्रियल एरिया में अन्य राज्यों के पांच से छह लाख से ज्यादा लोग रहते हैं। इनमें से ज्यादातर लोग अपने गृहराज्य की ट्रेन पकड़ने के लिए चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पहुंचते हैं,इसके अलावा इन लोगों के पास इतना लंबा सफर तय करने का कोई साधन नहीं है। पहले जहां चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन से  हर फेस्टिवल सीजन में यूपी, बिहार के लिए पांच -छह अतिरिक्त स्पेशल ट्रेनें चलाई जाती थी, लेकिन इस बार चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन से सिर्फ एक स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही है। एडवांस बुकिंग होने की वजह से लोग इन ट्रेनों में पहले से बुकिंग करवा लेते हैं, ऐसे में दिहाड़ीदार मजदूर और गरीब तबका पहले एडवांस बुकिंग नहीं करवा पाता, जिससे उन्हें त्योहारों के समय घर जाने में खासी दिक्कत होती है।

----

"रूटीन ट्रेनों में टिकट उपलब्ध न होने के कारण कुछ स्पेशल ट्रेनें शुरू कर दी गई हैं। कुछ की नोटिफिकेशन जल्द होगी। रेलवे बोर्ड इस पर नजर बनाए हुए है। उम्मीद है कि जल्द चंडीगढ़ समेत अंबाला से अतिरिक्त स्पेशल ट्रेनों का संचालन किया जाएगा।

                                                                                 गुरिन्द्र मोहन सिंह, डीआरएम, अंबाला मंडल

Edited By: Ankesh Thakur