चंडीगढ़, कुलदीप शुक्ला। न्यूनतम तापमान में कोहरे के बीच सड़क पर सुरक्षित सफर के लिए ट्रैफिक पुलिस की ओर से जारी फाग अलर्ट में पुलिस कर्मियों ने प्रमुख प्वाइंट्स पर सुबह-शाम मेनुअली ट्रैफिक मैनेजमेंट की कमान संभाल ली है। 2019 की तरह एंबुलेंस को व्यस्त सड़कों से निकालने के लिए ट्रैफिक को मेनुअली मैनेज किया जा सकता है। सड़क हादसों से बचाव के लिए पैदल चलने वालों के कपड़ों और साइकिल पर रेडियम लगाने के साथ वाहन सवारों को विशेष एडवाइजरी जारी की गई है। मौसम विभाग के अनुसार इस बार पिछले वर्ष की तुलना ज्यादा कोहरा पड़ेगाा।

नियमों का पालन कर चलाएं वाहन-

सुरक्षित सफर में ट्रैफिक नियमों का पालन करना ही बचाव है। ओवरस्पीड ड्राइविंग, ड्रंक एंड ड्राइव, लाउड म्यूजिक में ड्राइविंग, रेड लाइट जंप, रांग टर्न, रांग साइड लेन में ड्राइविंग, सड़क किनारे रांग पार्किंग और विदाउट हेलमेट ड्राइविंग जानलेवा हादसे का कारण बनती है। इसके साथ ही वाहनों की हेड लाइट, फाग लाइट, इंडिकेटर, ब्रेक, टायर, विडस्क्रीन वाइपर, बैटरी और कार हीटिंग सिस्टम मेंटेन रखते समय इस्तेमाल कर सकते हैं।

नियमों की अनदेखी, इस साल 104 की मौत -

2019 में अलग-अलग सड़क हादसों में कुल 104 लोगों ने जान गंवाई है। आंकड़ों के अनुसार सबसे ज्यादा हादसे की पहली वजह तेज रफ्तार, दूसरी वजह विदाउट हेलमेट ड्राइविग और तीसरी वजह ड्रंक एंड ड्राइव और धुंध सामने आई है। सिर्फ दिसंबर में 17 लोगों की हादसों में जान गई है।

कोहरे में कैसे करें बचाव -

- पैदल, साइकिल और दोपहिया पर चलने वाले संभव हो तो ब्लैक कलर के कपड़े का इस्तेमाल न करें।

- गाड़ी को कोहरे में सड़क पर पार्क नहीं करें, अगर गाड़ी में बैठ थोड़ी देर रोक रहे हैं तो दोनों इंडिकेटर आन रखें।

- कोहरे के दौरान लो-बीम हेड लाइट का इस्तेमाल करें, धुंध में हाई-बीम हेड लाइट कारगर नहीं होती है।

- कोहरे के कारण विजिबिलिटी कम हो जाती है तो ऐसी स्थिति में फाग लाइट को उपयोग अवश्य करें।

ठंड में कोहरे के दौरान विजिबिलिटी बेहद खराब होने पर सड़क पर कलर की गाइडलाइन को फोलो करें। ट्रैफिक पुलिस विभाग द्वारा जारी फाग अलर्ट के तहत कोहरे में सुरक्षित सफर के दौरान जरूरत पड़ने पर मेनुअली ट्रैफिक मैनेज किया जाता है। साइकिल-पैदल वालों को रेडियम लगाने और वाहन चालकों को विशेष एहतियात बरतने के प्रति जागरूक किया जाना चाहिए।

हरमन सिंह सिद्धू, संस्थापक, अराइव सेव संस्था और ट्रैफिक विशेषज्ञ