जेएनएन, चंडीगढ़। इंडियन रेलवे स्टेशन डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (आइआरएसडीसी) की ओर से चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पर तीन नए टिकट काउंटर शुरू किए गए हैं। अब रेल यात्रियों को रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म टिकट लेने में कोई दिक्कत नहीं होगी। इंडियन रेलवे स्टेशन डेवलपमेंट कॉरपोरेशन की ओर से चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन की एंट्रेंस की तरफ प्लेटफार्म टिकट लेने के लिए दो कियोस्क मशीनें लगाई गई हैं। जबकि पंचकूला की तरफ से रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म टिकट लेने के लिए एक कियोस्क मशीन लगाई गई है।

इंडियन रेलवे स्टेशन डेवलपमेंट कॉरपोरेशन के डायरेक्टर ने बताया कि रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म टिकट लिए बिना आने पर कार्रवाई की जाएगी। अकसर बिना प्लेटफार्म टिकट लिए यात्री रेलवे स्टेशन पर आ जाते हैं। जब कार्रवाई की जाती है तो उनका कहना होता है कि टिकट काउंटर पर लंबी लाइन और भीड़ के चलते प्लेटफार्म टिकट नहीं ले सके।

स्टाफ को प्लेटफार्म टिकट लेने में होगी छूट

डायरेक्टर ने बताया कि केवल रेलवे स्टाफ को प्लेटफार्म टिकट लेने में छूट होगी। इसके अलावा रेलवे के जो भी कर्मचारी ऑन ड्यूटी होंगे, उन्हें भी रेलवे स्टेशन के अंदर आने पर प्लेटफार्म टिकट लेने की कोई जरूरत नहीं होगी। लेकिन पैसेंजर के साथ उनके परिजन जब स्टेशन पर छोड़ने के लिए आते हैं तो उन्हें प्लेटफार्म टिकट लेना आवश्यक होगा। अगर कोई बिना प्लेटफार्म टिकट पकड़ा जाता है तो उसके खिलाफ रेलवे कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि प्लेटफार्म टिकट की कीमत इस समय 10 रुपये है।

बिना प्लेटफार्म टिकट के 29 लाख रुपये पेनल्टी एक दिन में वसूली

अंबाला मंडल ने गत वर्ष एक दिन में बिना प्लेटफार्म टिकट लिए स्टेशन पर पेनल्टी के जरिये एक ही दिन में 29 लाख रुपये वसूल किए थे। जोकि पिछले साल नई दिल्ली मंडल के तहत बिना प्लेटफार्म टिकट पर की गई कार्रवाई से अधिक था। अधिकारियों की मानें तो चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पर बिना प्लेटफार्म टिकट के रोजाना 30 से 50 लोग पकड़े जाते हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!