जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : दिनभर गर्मी के बाद शाम को राहत के कुछ पलों की तलाश में लोग सुखना लेक पहुंचे। लेक पर पर्यटकों और लोकल रेजिडेंट्स की बड़ी भीड़ रही। इस दौरान सुखना लेक के ट्रैक पर दूर-दूर तक लोग ही नजर आ रहे थे। लेक के किनारे बैठने की जगह भी ढूंढने से नहीं मिली। लेक पर बोटिग के लिए भी शाम को मारामारी रही। लाइन में लंबे इंतजार के बाद टिकट मिली। शाम को हवा चलने से मौसम कुछ सुहावना हो गया। इससे सैलानियों ने जमकर इसका लुत्फ उठाया। भीड़ में मास्क हुआ गायब

लेक पर उमड़ी भीड़ कोरोना से बेखौफ दिखी। भीड़ में बहुत से लोग बिना मास्क के ही दिखे। हालांकि ऐसे लोगों पर कार्रवाई के लिए प्रशासन की टीम भी मौजूद रही। उन्होंने बिना मास्क घूमते मिले पर्यटकों और लोकल रेजिडेंट्स के चालान भी किए। प्रशासन ने पब्लिक प्लेस पर मास्क पहनना जरूरी कर रखा है। इसकी एडवाइजरी कोरोना के संक्रमित मामले बढ़ने पर जारी की गई थी। अब केवल लेक ही नहीं सेक्टरों की मार्केट एरिया और सेक्टर-17 प्लाजा में भी बिना मास्क के चालान किए जाने लगे हैं। लोगों को मास्क पहनने के लिए कहा जा रहा है। एक बार फिर पहले जैसा डर बनाया जा रहा है। चालान पर विरोध भी हो रहा

अब मास्क नहीं पहनने का चालान करने पर कई जगह विरोध भी हो रहा है। लोगों का कहना है कि प्रशासन केवल एडवाइजरी जारी कर चालान काट रहा है। जबकि चालान काटने के आदेश जारी नहीं किए गए हैं। सेक्टर-19 की मार्केट में खरीदारी करने आए व्यक्ति महेश वर्मा ने बताया कि अब हालात वैसे नहीं हैं जब चालान करने की नौबत हो।

Edited By: Jagran