चंडीगढ़, जेएनएन। यहां एक बेहद रोचक मामला सामने आया है। शहर के सेक्टर-47 में रहने वाले रिटायर्ड मेजर अपने पड़ोस में रहने वाली महिला के मुर्गे से परेशान थे। सुबह-सुबह मुर्ग की बांग से उनकी नींद खुल जाती थी। उन्‍होंने पड़ोसन से इस पर आपत्ति जताई और मुर्गे को संभालने को कहा। उन्‍होंने मुर्गे की बांग के कारण हो रही परेशानी के बारे में बताया, लेकिन महिला ने इस पर ध्‍यान नहीं दिया तो मामला पुलिस में पहुंच गया।

उन्‍होंने शांतिभंग की शिकायत सेक्टर-31 थाना पुलिस को दी है। पुलिस को पहली बार मुर्गे से परेशान होने की शिकायत मिली है, जिस पर कानूनी सलाह ली जा रही है। वहीं जब पड़ोसन को शिकायत के बारे में पता चला तो उसने मेजर पर उत्पीड़न करने का आरोप लगाया। पुलिस ने दोनों की शिकायत दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें: ट्रेनों में कन्फर्म टिकट नहीं मिल रहा तो परेशान न हों, IRCTC की इस सुविधा का उठाएं लाभ


जानकारी के अनुसार, सेक्टर-47 में आर्मी फ्लैट में रहने वाले एक रिटायर्ड मेजर ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह अपनी पत्‍नी के साथ यहां 1991 से रह रहे हैं। पिछले कुछ समय उनके पड़ोस में एक महिला किराये पर रहने आई है। इस महिला ने तीन महीनों से मुर्गा और मुर्गी फ्लैट में रखा हुआ है। दोनों मुर्गा और मुर्गी सुबह ही बांग देना शुरू कर देते हैं। इससे उनकी और उनकी पत्नी की नींद खराब होती है और उस परेशानी के कारण स्वास्थ्य पर काफी असर पड़ रहा है।

तीन माह पहले भी दी थी शिकायत

शिकायतकर्ता ने बताया कि उन्हें मल्टी हेल्थ प्राब्लम है। अलसुबह मुर्गा और मुर्गी की बांग से उन्हें काफी समस्या होती है। इसके अलावा सोसायटी में बर्ड फ्लू से छोटे बच्चों को खतरा है। तीन महीने पहले भी उन्होंने इसकी शिकायत एसएसपी नीलांबरी जगदाले और एसडीपीओ साउथ नेहा यादव को भी शिकायत दी थी।

यह भी पढ़ें: पंजाब का एक और मंत्री नवजोत सिद्धू की राह पर, नाराज सोनी ने भी उठाया यह कदम

दूसरी ओर, सेवानिवृत मेजर द्वारा पुलिस को शिकायत देने के बारे में पड़ोसी महिला को पता चला तो उसने सेवानिवृत मेजर के खिलाफ उत्‍पीड़न की शिकायत दे दी। महिला को सेवानिवृत मेजर की शिकायत के बारे में उस समय पता चला जब  मामले की जांच करने सेक्टर-31 थाना के पुलिसकर्मी मौके पर पहुंची। महिला ने मेजर पर जान बूझकर परेशान करने का आरोप लगाया।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!