जागरण संवाददाता, मोहाली। एक तरफ जहां पुलिस लोगों की सुरक्षा व मदद के लिए होती है वहीं, दूसरी तरफ कुछ पुलिस मुलाजिम लोगों से ही ऐसा बर्ताव करते हैं कि जिससे आम जनता का पुलिस से विश्वास ही उठ जाता है। ऐसा ही एक मामला सामने आया है जिसमें पुलिस मुलाजिम वर्दी का धौंस दिखाकर गरीब मजदूर को डराता धमकाता है।

कंपनी में काम करने वाले एक मजदूर के खाते में रविवार उसकी महीना भर की मजदूरी का पैसा आया। देर शाम जब वह एटीएम से नौ हजार रुपये निकालकर बाहर निकला तभी एक युवक उसके पैसे छीनकर फरार हो गया। बलौंगी निवासी दीनानाथ ने चोर को पकड़ने की कोशिश की पर वह चोर को पकड़ नहीं पाया। पीड़ित बलौंगी थाने में शिकायत देने पहुंचा तो वहां मौजूद मुंशी ने दीनानाथ को ही लताड़ लगा दी और कहा कि तुम्हें पैसा संभालना नहीं आता, अब मैं कहां से ढूंढ कर लाऊं तेरा चोर.।

दीनानाथ ने मुंशी से कहा कि उसके साथ एक मुलाजिम भेजकर एटीएम में लगे सीसीटीवी कैमरे चेक करवा लें तो मुंशी भड़क गया और बिना शिकायत दर्ज किए दीनानाथ को धमकाते हुए थाने से बाहर भेज दिया। दीनानाथ ने कहा कि मैं गरीब हूं इसलिए पुलिस भी मेरी सुनवाई नहीं कर रही। हताश दीनानाथ इस समय खाना खाने तक के लिए मोहताज हो गया है।

दीनानाथ ने बताया कि वह एक निजी कंपनी में लेबर का काम करता है। रविवार को उसकी सेलरी खाते में आई थी। रविवार शाम करीब साढ़े सात बजे वह बलौंगी बस अड्डे पर एसबीआइ के एटीएम से पैसे निकालने गया। एक युवक एटीएम के बाहर चक्कर लगा रहा था, परंतु उसे लगा कि शायद वह युवक भी पैसे निकालने के लिए एटीएम के बाहर इंतजार कर रहा है। दीनानाथ ने खाते से नौ हजार निकाले और जैसे ही वह एटीएम से बाहर आया तो आरोपित युवक उसके हाथ से नौ हजार छीनकर फरार हो गया। दीनानाथ चोर-चोर चिल्लाकर उसके पीछे भी भागा परंतु अंधेरे की आड़ में चोर भागने में कामयाब हो गया।

अगर शिकायत नहीं लिखी गई तो मैं इसका पता करवा लेता हूं। शिकायकर्ता सीधा मुझसे आकर मिले। पीड़ित की शिकायत भी लिखी जाएगी और मामले की जांच भी होगी।
मनफूल सिंह, एसएचओ थाना बलौंगी।


हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!