जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : कप्तान काशवी गौतम की चटकाई तीन विकेटों और नाबाद 42 रनों की बदौलत चंडीगढ़ ने आंध्र प्रदेश स्थित कडापा में खेली जा रही बीसीसीआइ वुमंस अंडर 19 वनडे टूर्नामेंट में मणिपुर को छह विकेट से हरा दिया है। मणिपुर के दिए गए 103 रनों के लक्ष्य को चंडीगढ़ ने मात्र 32वें ओवर में पूरा कर लिया। चंडीगढ़ की यह चौथी जीत थी, जबकि टीम अपना अगला मैच आठ मार्च को सिक्किम के विरुद्ध खेलेगी। मणिपुर ने नौ विकेट के नुकसान पर बनाए 102 रन

इससे पूर्व चंडीगढ़ ने टॉस जीतकर मणिपुर को पहले बल्लेबाजी करने का आमंत्रित किया। पारी के छठे ओवर में रमीजा बेगम ने चंडीगढ़ को पहली सफलता तब दिलाई, जब उन्होंनें रोनीबाला थोकचोम को दो के निजी स्कोर पर आउट किया। अगले ही ओवर में काशवी एक बार फिर हैट्रिक से चूक गई और लगातार दो गेंदों में निरुता और किरण बाला, दोनों को शून्य शून्य पर आउट कर मणिपुर का स्कोर तीन विकेट के नुकसान पर 14 रन कर दिया। तीन ओवर बाद ही रमीजा बेगम ने मणिपुर को एक बड़ा झटका ओर दिया और एल राजकुमारी को पांच के निजी स्कोर पर एलबीडब्लयू आउट किया। चार विकेट के नुकसान पर 23 रनों पर जूझ रहा मणिपुर को एक बड़ी साझेदारी की तलाश थी, जिसे कल्पना और चोंग ने किया। दोनों ने पांचवे विकेट की साझेदारी के लिए महत्वपूर्ण 61 रन जोड़े। 84 के टीम स्कोर पर अनीता ने संभल कर खेल रही कल्पना का विकेट लिया। कल्पना ने 116 गेंदों पर 40 रन बनाए। 37वें ओवर में मणिपुर के दो विकेट गिरे जिसमें अनीता ने मनीमाचा को शून्य के स्कोर पर रन आऊट किया। इसी ओवर में ज्योतिकुमारी ने चोंग (17) को अपना शिकार बनाया और टीम का स्कोर सात विकेट के नुकसान पर 86 रन हुआ। काशवी ने के बिदिया रानी को पांच के निजी स्कोर पर क्लीन बोल्ड किया, जबकि अनीता ने लिनथोई को दो के निजी स्कोर पर आऊट कर मणिपुर को नौ विकेट के नुकसान पर 102 रनों पर रोका। काशवी गौतम ने तीन विकेट जबकि अनीता और रमीजा बेगम ने दो दो विकेट चटकाए। ज्योतिकुमारी को एक विकेट से संतोष करना पड़ा। काशवी ने खेली नाबाद 42 रनों की पारी

लक्ष्य पीछा करते हुए चंडीगढ़ की शुरुआत भी खासी अच्छी नहीं रही और चौथे ही ओवर में टीम के 14 के स्कोर पर सिमरन जोहल (6) लिनथोई का शिकार हुई। मेहुल भी इस बार बल्ले से कमाल ने कर सकी और नौवें ओवर में एल राजकुमारी द्वारा क्लीन बोल्ड हुई। इस समय दो विकेट के नुकसान पर टीम का स्कोर 38 रन था। इसके बाद सतर्क खेल दिखा रही पारुषि प्रभाकर भी राजकुमारी द्वारा क्लीन बोल्ड हुई। टीम स्कोर तीन विकेट के नुकसान पर 43 रन संकट के बादल मंडरा ही रहे थे कि कप्तान काशवी गौतम ने शिवाली के साथ मोर्चा संभाला। दोनों ने मिलकर 56 रन जोड़े और स्कोर को 99 रनों तक ले गए। निरुका ने शिवाली (10) को आउट कर इस साझेदारी का अंत किया। परन्तु इस समय तक चंडीगढ़ की जीत लगभग तय थी। काशवी के नाबाद 42 रनों की बदौलत चंडीगढ़ ने 103 रनों का लक्ष्य 32वें ओवर में ही पूरा कर लिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!