मनीमाजरा, जेएनएन। घर से अल सुबह साइकलिंग करने निकले किशोर को कार चालकों द्वारा अपहरण करने का मामला मनीमाजरा पुलिस के सामने आया। सूचना पाकर मौके पर एसएसपी कुलदीप सिंह चहल, डीएसपी गुरमुख और थाना प्रभारी नीरज सरना मौके पर पहुंचे। जिसके बाद पुलिस ने किशोर को ढ़ुंढने और अपहरणकर्ता को पकड़ने के लिए तुरंत इलाके में नाकाबंदी कर दी। हालांकि थोड़ी देर बाद अपहरण बच्चा पंचकूला के सेक्टर-15 के पेट्रोल पंप के पास मिल गया। पुलिस बच्चे को कस्टडी में लेकर पूछताछ कर रही है। पुलिस इस मामले की हर पहलू से जांच कर रही है।

पुलिस के अनुसार मंगलवार सुबह करीब साढ़े चार बजे किशनगढ़ के मकान नंबर 355 चूड़ामणि का 16 साल के बेटे अंकित अपने दोस्तों युवराज और अनीश के साथ साइकलिंग करने घर से निकले। जैसे ही वो मनीमाजरा के गुरकुल ग्लोबल स्कूल के पास पहुंचे। तो पीछे आ रही कार चालक ने अंकित के आगे आकर ब्रेजा कार रोक दी और उसे जबरदस्ती कार में बिठा कर वहां से फरार हो गए। जिसके बाद युवराज ने इसकी सूचना अंकित को दी। जिसके बाद करीब पौने पांच बजे अंकित के पिता चूड़ामणि को अंकित के मोबाइल से फोन आता है क‌ि अंकित के बदले पांच लाख रुपये की फिरौती की मांग की। जिसके बाद चूड़ामणि ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

सूचना मिलने ही पुलिस ने इलाके में नाकाबंदी कर दी। यही नहीं पुलिस ने पंचकूला पुलिस को इसके बारे में सूचित कर मदद मांगी। करीब साढ़े आठ बजे चूड़ामणि को दोबारा अंकित के नंबर से फोन आया कि वो उनके बेटे को पंचकूला सेक्टर-15 के पास वाले पेट्रोल पंप पर छोड़ रहे है। जिसके बाद पुलिस ने बच्चे को पेट्रोल पंप से मनीमाजरा थाना लेकर आई। जहां पर बच्चे के बयान दर्ज किए जा रहे हैं।

 

Edited By: Vinay Kumar