जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : सोनीपत में आयोजित नेशनल अंडर-17 चेस चैंपियनशिप में शहर की इंटरनेशनल खिलाड़ी तारिणी गोयल ने संयुक्त रूप से तीसरा स्थान हासिल किया है। इस प्रतियोगिता में तारिणी ने 11 राउंड के खेल में 7.5 प्वाइंट हासिल कर तीसरा स्थान प्राप्त किया है। इस जीत के लिए तारिणी को 7000 रुपये का नकद ईनाम दिया गया। टाइब्रेक सिस्टम की वजह से फाइनल रैंकिंग में तारिणी छठे नंबर पर रहीं, लेकिन तीसरे, चौथे, पांचवे और छठे नंबर पर रहने वाले सभी प्रतिभागी खिलाड़ियों के एक जैसे नंबर थे। इस प्रतियोगिता में तमिलनाडु की प्रियंका ने ग‌र्ल्स कैटेगरी में पहला स्थान पाया। राष्ट्रीय स्तर की इस प्रतियोगिता में देशभर से 126 लड़के और 72 लड़कियों ने हिस्सा लिया था। तारिणी की इस कामयाबी पर एसोसिएशन के वाइस प्रेसिडेंट नवीन बंसल ने उन्हें बधाई दी है। जीत चुकी हैं कई प्रतियोगिताएं

तारिणी गोयल अब तक 13 इंटरनेशनल मेडल जीत चुकी हैं। इनमें चार मेडल एशियन यूथ चैंपियन फिलीपींस में, एक मेडल एशियन यूथ चेस चैंपियनशिप ईरान में, दो मेडल व‌र्ल्ड यूथ फेयर चैंपिनयशिप साउथ कोरिया में, एक मेडल एशियन यूथ चैंपिनयशिप चाइना में जीता है। इसके अलावा चंडीगढ़ की तरफ से 20 से ज्यादा नेशनल प्रतियोगिताओं में हिस्सा ले चुकी हैं। - तीन मेडल नेशनल स्कूल गेम्स में जीते।

-अंडर-19 नेशनल चैंपिनयशिप में ब्रांज मेडल जीता।

-साल 2016-2017 में दो बार चंडीगढ़ सीनियर चैंपियन।

-साल 2015, 2016, 2017 में तीन बार चंडीगढ़ वूमेन चैंपियन रही। पिता को बेटी पर नाज

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के डॉयरेक्टर के पद पर तैनात तारिणी के पिता अशीष गोयल ने बताया कि तारिणी सालों से अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं, अभी उसकी उम्र 16 साल है। तारिणी चेस खेलने में ही नहीं, पढ़ाई में भी अव्वल रहती हैं। मुझे पूरा यकीन है कि वह एक दिन जरूर ग्रैंड मास्टर बनकर अपना सपना पूरा करेगी।

Posted By: Jagran