चंडीगढ़, जेएनएन। पंजाब यूनिवर्सिटी में शुक्रवार को होने वाली सिंडीकेट बैठक प्रशासनिक कार्यों की वजह से स्थगित कर दी गई। जानकारी के मुताबिक अब यह बैठक 13 दिसंबर को होगी। ध्यान रहे कि साल की इस अंतिम सिंडीकेट बैठक में बहुत से अहम मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।

सूत्रों की मानें तो शुक्रवार को बनी रणनीति के तहत सिंडीकेट की मीटिंग के लिए कोई मेंबर नहीं पहुंचा। कुछ मेंबर्स वाइस चांसलर ऑफिस उनसे मुलाकात के लिए चले गए। इसलिए मीटिंग में वाइस चांसलर भी नहीं पहुंचे। रजिस्ट्रार, डिप्टी रजिस्ट्रार जनरल और यूनिवर्सिटी के सभी आला अधिकारी और मीटिंग रिकॉर्ड करने से जुड़ा स्टाफ लगभग 12:00 बजे तक इंतजार करता रहा। 12:15 बजे के बाद स्टाफ को स्पष्ट कर दिया गया की मीटिंग नहीं होगी।

सूत्रों के अनुसार पीयू टीचर्स एसोसिएशन टीचरों से जुड़े कुछ मसले सिंडीकेट की मीटिंग में डिस्कस करना चाह रही थी लेकिन वाइस चांसलर इन मसलों को सिंडीकेट में लाने की बजाय टाल रहे थे। इससे नाराज सिंडीकेट मेंबर्स ने मीटिंग का बायकॉट ही कर दिया। इस मीटिंग में स्टूडेंट की स्कॉलरशिप, सब्सिडी बढ़ाने के केस, प्रमोशन के केस और नॉन टीचिंग स्टाफ को दिए और जीपी दिए जाने का फैसला होना था। पीयू से एफिलिएटेड मेडिकल कॉलेजों में अब एमडी और एमएस का थीसिस सिर्फ दो एक्सटर्नल एक्जामिनर ही चेक करेंगे। गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (जीएमसीएच) के डायरेक्टर कम प्रिंसिपल प्रो बीएस चवन की ये सिफारिश सिंडिकेट की मीटिंग में डिस्कस होगी।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sat Paul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!