जेएनएन, चंडीगढ़। आम आदमी पार्टी के बागी नेता सुखपाल खैहरा ने अमृतसर हादसे पर दुख जताया और मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति संवेदना जताई है, लेकिन इस क्रम वह एेसा कुछ कह गए, जिस पर अब विवाद छिड़ गया है। एक वीडियो जारी कर खैहरा ने कहा कि इस तरह के हादसे तो पंजाब में रोज होते रहते हैं। यह बड़ा हादसा था तो इसलिए इतनी चर्चा हो रही है। इसके लिए नवजोत कौर सिद्धू या कोई अन्य नहीं, बल्कि सिस्टम जिम्मेदार है।

खैहरा ने हादसे के लिए टॉप अथॉरिटीज व सिस्टम को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा, ''अमृतसर में 60 लोगों के मारे जाने की खबर आई है। इस कारण लोगों का ध्यान इस ओर गया, लेकिन इस तरह के छोटे हादसे तो रोज होते हैं। राज्य में हर रोज आठ से दस लोग हादसों में मारे जाते हैं। कई हादसे अावारा पशुओं के कारण होते हैं। पंजाब में हर वर्ष पांच हजार से ज्यादा लोग मरते हैं, लेकिन सरकार हादसों को रोकने के लिए कदम नहीं उठाती।''

खैहरा ने कहा कि अमृतसर में बड़ी घटना हुई है। यह रेलवे अथॉरिटी का बहुत बड़ा फेल्योर है। कहा कि आज से तीस साल पहले एेसी घटना घटती तो रेलवे की टॉप अथॉरिटी अपना इस्तीफा दे चुकी होती। सुखपाल खैहरा ने कहा कि विकसित देशों में रेलवे ट्रेकों के इर्द-गिर्द फेंसिंग की जाती है। भारत में अगर यह संभव नहीं है तो कम से कम भीड़भाड़ वाले शहरी इलाकों में ट्रेकों की फेंसिंग की ही जा सकती है।

उन्होंने कहा कि हादसे के बाद रेल अथॉरिटीज व जिला प्रशासन सोया हुआ है। यह हादसा पूरी तरह से सिस्टम का फेल्योर है। अगर यह विकसित मुल्कों में इस तरह का हादसा होता तो टॉप अथॉरिटीज जिम्मेदारी लेती, इसकी जांच भी निर्धारित समय पर होती।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!