चंडीगढ़, जेएनएन। दोनों सस्पेंड कर्मचारी को बहाल कर स्पोर्ट्स डायरेक्टर तेजदीप सिंह सैनी ने कर्मचारी यूनियनों के गुस्से को शांत किया। इससे पहले चंडीगढ़ सबोर्डिनेट सर्विस फेडरेशन इंटक ने सेक्टर-16 क्रिकेट स्टेडियम से निकाले गए सुरक्षा कर्मचारी रविंद्र किशोर तिवारी के मुद्दे को लेकर स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स-42 में डायरेक्टर दफ्तर के आगे रोष रैली निकाली।

इस रैली में फेडरेशन से संबंधित तमाम यूनियनों ने हिस्सा लिया। ग्रुप डी वर्करों द्वारा ड्यूटी छोड़कर इस रैली में हिस्सा लिया गया। कर्मचारियों के गुस्से को देखते हुए स्पोर्ट्स डायरेक्टर तेजदीप सिंह सैनी ने फेडरेशन का एक प्रतिनिधिमंडल बातचीत के लिए बुलाया। इसके बाद स्पोर्ट्स डायरेक्टर ने दोनों पक्षों को सुना और कर्मचारियों के बीच तालमेल बिठाते हुए दोनों सस्पेंड कर्मचारियों को बहाल कर दिया। रविंद्र किशोर तिवारी के अलावा दूसरा कर्मचारी रामजीत सिंह था, जोकि कोरोना महामारी के चलते अपनी ड्यूटी ज्वाइन नहीं कर सका था।

जांच में सामने आया नहीं परोसी गई थी शराब

जांच में सामने आया कि 6 जुलाई 2020 को सेक्टर 16 क्रिकेट स्टेडियम में मैनेजर संजय एवं स्पोर्ट्स डिपार्टमेंट के कुछ मुलाजिमों द्वारा पार्टी की गई। इस पार्टी में शराब नहीं परोसी गई थी। मैनेजर संजय एवं इन लोगों ने खाना कैंटीन के अंदर बैठकर खाया जिस वजह से सुरक्षा कर्मचारी को गलतफहमी हो गई, उसने कुछ पुरानी शराब की खाली बोतलें पड़ी देखकर शिकायत में शराब पीने का जिक्र किया था। जो जांच के दौरान गलत साबित हुए। इसलिए उसने अपनी शिकायत वापस ले ली। चंडीगढ़ सबोर्डिनेट सर्विस फेडरेशन इंटक ने स्पोर्ट्स डायरेक्टर के इस फैसले का स्वागत किया और अगले आदेश तक अपने स्पोर्ट्स डिपार्टमेंट में होने वाले सभी धरने प्रदर्शन स्थगित करने का फैसला लिया।

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!