चंडीगढ़, जेएनएन। पंजाब यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव में सोई की जीत दर्शाती है कि पंजाब के लोग शिरोमणि अकाली दल को भविष्य में देखना चाहते हैं। पंजाब यूनिवर्सिटी में सोई के उम्मीदवार चेतन चौधरी को स्टूडेंट काउंसिल की कुर्सी मिलने के बाद शनिवार को सुखबीर सिंह बादल ने सेक्टर-28 स्थित कार्यालय में कार्यक्रम का आयोजन कराया। जहां पर चेतन के अलावा विभिन्न कॉलेजों में छात्र संघ चुनाव में भाग लेने वाले स्टूडेंट्स मौजूद रहे। मौके पर सुखबीर बादल ने कहा कि खुशी की बात है कि 2015 के बाद दोबारा से काउंसिल में सोई संगठन काबिज हुआ है। मुझे गर्व है कि युवाओं के अंदर इतना जुनून है कि वह कुछ भी करने की हिम्मत रखते हैं। अमेरिका का उदाहरण देते हुए सुखबीर ने कहा कि वहां पर हमेशा एक नौजवान राष्ट्रपति ही नियुक्त होते हैं जिसके कारण वह विश्व की महाशक्ति के तौर पर स्थापित है।

युवा ला सकते है राजनीति में बड़ा बदलाव
सुखबीर ने कहा कि राजनीति में युवाओं की भूमिका पर सुखबीर बादल ने कहा कि युवा देश की राजनीति में बहुत बड़ा बदलाव ला सकते हैं और इसे युवाओं ने समय-समय पर साबित भी किया है। 2022 में होने वाले पंजाब विधानसभा चुनाव में युवाओं पर अहम जिम्मेदारी होगी। जिसके लिए तैयारी अभी यूनिवर्सिटी और कॉलेज से करनी होगी।

ईशान शर्मा जैसे स्टूडेंट्स को नहीं भूलना चाहिए
कार्यक्रम में शिरोमणि अकाली दल के नेता बिक्रमजीत सिंह मजीठिया भी मौजूद रहे। उन्होंने पंजाब यूनिवर्सिटी सहित गुरु गोबिंद सिंह कॉलेज सेक्टर-26 और पोस्ट ग्रेजुएशन गवर्नमेंट कॉलेज सेक्टर-11 में दो-दो सीटों पर अकाली दल के स्टूडेंट्स नेताओं के काबिज होने पर भी बधाई दी। मजीठिया ने कहा कि छात्र संघ चुनाव को जीतने के लिए सभी स्टूडेंट्स ने दिन-रात मेहनत की है जिसका फल आज हमें मिला है। उन्होंने पीयू के पूर्व छात्र ईशान शर्मा को भी याद करते हुए कहा कि ईशान ने स्टूडेंट्स के लिए बहुत काम किए थे। ऐसे स्टूडेंट्स के कारण ही हम किसी मुकाम पर पहुंचे हैं। उन्हें कभी भूलना नहीं चाहिए और हमेशा पूरी लगन के साथ काम करना चाहिए।

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!