जागरण संवाददाता, मोहाली : सोहाना अस्पताल ने ब्रेस्ट कैंसर से प्रभावित ट्राइसिटी की महिलाओं के लिए मेमोग्राफी के लिए आधुनिक मोबाइल मेमोग्राफी बस सेवा की शुरुआत की है। इसका उद्घाटन श्री गुरु हरिकृष्ण साहिब आई अस्पताल ट्रस्ट के चेयरमैन भाई दविदर सिंह ने बस को हरी झंडी दिखाकर किया। इस अवसर पर ट्रस्ट के सचिव गुरमीत सिंह व सोहाना अस्पताल के सीईओ डाक्टर गगनदीप सिंह मौजूद थे।

इस मौके श्री गुरु हरिकृष्ण साहिब आई अस्पताल ट्रस्ट सोहाना के सचिव गुरमीत सिंह ने कहा कि 40 वर्ष से अधिक उम्र वाली महिलाओं को अब ब्रेस्ट (छाती) के कैंसर से राहत लेने के लिए मेमोग्राफी करवाने के लिए अपने घर से दूर नहीं जाना पड़ेगा। बल्कि यह सुविधा उनको अपने घर के नजदीक मुफ्त में मिलेगी।

उन्होंने कहा कि इस वर्ष मोबाइल यूनिट की ओर से 50000 से अधिक महिलाओं की मुफ्त जांच करने का लक्ष्य है। अस्पताल के मेडीकल आनकोलाजी विभाग के सीनियर कंस्लटेंट डाक्टर संदीप कक्कड़ ने कहा कि मेमोग्राफी बस में एक कैंसर माहिर के साथ-साथ समूह टेक्नीकल स्टाफ मौजूद रहेगा। उन्होंने कहा कि चलती फिरती सुविधा देने वाला सोहाना अस्पताल ट्राईसिटी का पहला प्राइवेट अस्पताल बन गया है। उन्होंने कहा कि इस बस में वेब आधारित रिपोर्टिंग सिस्टम लगाया गया है, जिससे हर सुविधा आनलाइन उपलब्ध रहेगी। उन्होंने कहा कि इस बस में हर वह सुविधा उपलब्ध करवाने की कोशिश की गई है, जो एक अस्पताल में मौजूद होती हैं। इस अवसर पर एक छोटा वेटिग रूम, शौचालय व अन्य तकनीकी सुविधा मुहैया करवाई गई हैं। इन कारणों से होता है ब्रेस्ट कैंसर

उन्होंने कहा कि अस्पताल के मेडीकल आनकोलाजी विभाग के सीनियर कंस्लटेंट डाक्टर संदीप कक्कड़ ने कहा कि एक स्टडी में सामने आया है कि ट्राईसिटी की महिलाएं मुंबई व दिल्ली के मुकाबले ब्रेस्ट कैंसर से ज्यादा प्रभावित हैं। उन्होंने कहा कि वजन बढ़ना, व्यायाम की कमी, हार्मोन्स में तब्दीली, गर्भनिरोधक दवा का सेवन, दिमागी तनाव, देर रात तक ड्यूटी करना आदि ब्रेस कैंसर की संभावनाओं को बढ़ाता है।

Edited By: Jagran