चंडीगढ़ : भाजपा के वरिष्ठ नेता हरमोहन धवन ने पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा और सांसद शत्रुघ्न सिन्हा की मौजूदगी में धवन राष्ट्रीय मंच के साथ जुड़े। धवन ने अपने निवास पर वर्करों के साथ राष्ट्रीय मंच का हाथ थामा। इससे पहले प्रेस क्लब में यशवंत सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा ने भाजपा की वर्किंग पर सवाल उठाए। शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि आज की पार्टी में कार्यकर्ताओं की सुनवाई नहीं है। पार्टी से बड़ा देश होता है। यदि पार्टी उन्हें छोड़ना चाहती है तो वह उसके निर्णय का सम्मान करेंगे। उन्होंने कहा कि बिहार में चुनाव के दौरान बिहारी बाबू की एंट्री नहीं हुई। यह उनका अपमान था। सच को सच बोलना बगावत है तो वह बागी हैं। आज पार्टी में ऐसे लोग हैं जो केवल स्तुति गान कर रहे हैं। उन्होंने नोटबंदी के फैसले को गलत बताया। शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि उनकी छवि बेदाग है वह राष्ट्र हित में काम करते रहे हैं। यशवंत और शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि कर्नाटक में जो हुआ वह गलत है। वह देश में चेतना जगाने का काम कर रहे हैं।

भाजपा दो लोगों के हाथों की कठपुतली बनकर रह गई : यशवंत सिन्हा

यशवंत सिन्हा ने कहा कि पार्टी में डेमोक्रेसी खत्म हो गई है। पार्टी दो लोगों के हाथों की कठपुतली बन गई है। अब वह पार्टी नहीं रही जिसे 1993 में उन्होंने ज्वाइन किया था। पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज मुद्दा नहीं देश के सामने आज कई मुद्दे हैं। देश में आज निराश का माहौल है। भाजपा ने लोगों से जो चुनावी वादे किए थे वह सब जुमले थे। राष्ट्रीय मंच को उन्होंने राजनीति को सही दिशा में आगे ले जाने वाला कदम बताया। जो राष्ट्रीय हित की बात करते हैं वह राष्ट्रीय मंत्र में आ सकते हैं। उनका जमीर जिंदा है इसलिए वह दूसरी पार्टी में नहीं गए।

धवन की पहचान भाजपा से नहीं : हरमोहन धवन

भाजपा के वरिष्ठ नेता हरमोहन धवन ने राष्ट्र मंच ज्वाइन कर लिया है। वह राष्ट्र मंच के साथ मिलकर लोगों के लिए काम करेंगे और भाजपा में ही बने रहेंगे। रविवार को पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा और भाजपा के सासद शत्रुघ्न सिन्हा ने हरमोहन धवन को पार्टी में बने रहने की सलाह दी। शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा की भाजपा में मन की बात कही जा रही है। लेकिन आम जन की बात कोई नहीं सुनता भाजपा नेता हरमोहन धवन ने कहा भाजपा के चंडीगढ़ इकाई के नेता अपनी डिक्टेटरशिप चला रहे हैं। धवन ने कहा कि पिछले 4 सालों के दौरान शहर की जनता से किया गया एक भी वादा पूरा नहीं हुआ है। वह शहर की जनता के साथ हैं और अपनी आवाज उठाते रहेंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!