-कांग्रेस पर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाया --- राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़: शिरोमणि अकाली दल ने मांग की है कि पंजाब सरकार पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले टैक्स में राज्य के शेयर को कम कर लोगों को कम से कम 10 रुपये की राहत दे। यदि सरकार ऐसा करती है तो शिअद केंद्र का शेयर कम करवाने के लिए कांग्रेस के साथ मिलकर दिल्ली में धरना देने को तैयार हैं। एक साझा प्रेस बयान में सीनियर अकाली नेताओं सुखदेव सिंह ढींडसा, बलविंदर सिंह भूंदड़ और डॉ. दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि राजय के टैक्स में 50 फीसद की कमी भी पेट्रोल-डीजल के दाम 10 रुपये प्रति लीटर नीचे ले आएगी। यदि ऐसा हो गया, तो हम काग्रेस की माग का समर्थन करेंगे। आम आदमी के लिए पेट्रोल-डीजल की कीमतों में 20 रुपये प्रति लीटर तक की कमी लाने के लिए काग्रेस के साथ दिल्ली जाकर टैक्स में कटौती की मांग करेंगे। अब गेंद काग्रेस के पाले में है। हालांकि, जब पंजाब में शिअद-भाजपा की सरकार थी, तो उन्होंने राज्य के हिस्से के टैक्स में कोई कटौती नहीं की थी।

अकाली नेता काग्रेस के प्रदेश प्रधान सुनील जाखड़ की उस टिप्पणी का जवाब दे रहे थे, जिस में उन्होंने कहा था कि अकालियों को केंद्र से पेट्रोल-डीजल की कीमत कम करन की मांग करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि काग्रेस मगरमच्छ के आंसू बहा रहे हैं। कांग्रेस लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार अपने घोषणापत्र में किए गए वादों को पूरा करने में नाकाम साबित हुई है।

जागरण ने उठाया था मुद्दा

गौरतलब है कि दैनिक जागरण ने बुधवार के अंक में यह मुद्दा उठाया था कि पंजाब में पेट्रोल के 83 रुपये में से 21.80 रुपये राज्य के टैक्स के हैं। यदि इसमें कटौती की जाए, तो लोगों को राहत मिल सकती है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!