चंडीगढ़, जेएनएन। पीजीआइ चंडीगढ़ (PGI Chandigarh) में रविवार सुबह ही जमकर हंगामा हुआ। यह हंगामा अस्पताल की कर्मचारी यूनियन के सदस्यों ने किया है। हंगामा बढ़ता देख मौके पर पुलिस को भी बुलाया गया है। दरअसल डॉक्टर के मोबाइल चोरी करने के आरोप में तीन सफाई कर्मचारियों को पुलिस द्वारा पीटने का आरोप लगा है। शनिवार रात एक डॉक्टर का मोबाइल फोन चोरी हो गया। फोन चोरी की शिकायत डॉक्टर्स ने पीजीआइ पुलिस चौकी में दी। पुलिस शक के आधार पर तीन सफाई कर्मचारियों को राउंडअप कर चौकी ले गई। सख्ती से पूछताछ के दौरान पुलिस ने उनकी पीटाई कर दी। कर्मचारियों के शरीर पर डंडों के निशान भी मिले हैं।

ऐसे में रविवार सुबह ही कमर्चारियों का गुस्सा फूट पड़ा और पुलिस और डॉक्टर की गलत हरकत पर विरोध किया गया। कर्मचारियों द्वारा पुलिस चौकी का घेराव कर नारेबाजी की जा रही है। वहीं, मौके पर पुलिस को तैनात कर दिया गया है। कर्मचारियों ने विरोध स्वरूप अन्य साथियों के साथ कार्डियक डिपार्टमेंट के बाहर जाम लगा दिया है और नारेबाजी कर रहे हैं। बड़ी संख्या में कर्मचारी विभाग के बाहर खड़े होकर प्रदर्शन कर रहे हैं।

पीजीआइ कर्मचारी यूनियन का आरोप है कि पुलिस ने तीन कर्मचारियों जिसमें दो सफाई कर्मी और एक अटेंडेंट को बेरहमी से पिटाई की है। रात 10 बजे कर्मचारियों को पुलिस चौकी ले गई और उनकी बेरहमी से पिटाई की। कर्मचारियों के शरीर पर निशान भी मिले हैं। वहीं, जिस डॉक्टर ने फोन चोरी का आरोप लगाया था उसके बैग में ही मोबाइल मिल गया है। ऐसे में बेकसूर कर्मचारियों पर पुलिस ने सख्ती दिखाकर उनकी डंडे से पीटाई की। इसी बात का विरोध करते हुए पीजीआइ कर्मचारी यूनियन प्रदर्शन कर रही है।

Edited By: Ankesh Thakur