चंडीगढ़, [वैभव शर्मा]। शहर के साथ लगते मोहाली जिले में कोरोना वायरस के मरीज दिन प्रतिदिन बढ़ रहे हैं। ऐसे में लाॅकडाउन बढ़ेगा या नहीं इस बात पर अभी भी असमंजस बना हुआ है। इन सब अटकलों के बीच शिक्षा विभाग ने 9वीं और 11वीं क्लास के नतीजों को घोषित करने का फैसला लिया है। सरकारी स्कूलों के दोबारा खुलने की बजाय अब इन कक्षाओं के नतीजे डिजिटल तरीके से घोषित किए जाएंगे। जानकारी के मुताबिक सभी सरकारी स्कूलों के प्रिंसिपलों से बातचीत करके इन कक्षाओं के नतीजे भी अगले हफ्ते तक डिजिटली अनाउंस कर दिए जाएंगे।

बच्चों को कंपार्टमेंट परीक्षा के लिए मिल सकेगा टाइम

यूटी जिला शिक्षा अधिकारी अलका मेहता ने बताया कि कक्षा 9वीं और 11वी के कई छात्र फेल या कंपार्टमेंट वाले भी हैं, जिन्हें दोबारा तैयारी करके कुछ विषयों के पेपर दोबारा देने होंगे। ऐसे में नतीजे घोषित करने के लिए स्कूल खुलने तक का इंतजार करने में काफी समय बर्बाद हो जाएगा। इसका खामियाजा छात्रों को चुकाना पड़ सकता है। इसलिए इन कक्षाओं के नतीजे भी जल्द ही डिजिटली घोषित करने पर विचार किया जा रहा है, ताकि जिन बच्चों को दोबारा एगजाम देने की जरूरत है, वे समय पर अपने पेपरों की तैयारी कर सकें। 

प्रिंसिपलों के सुझाव पर अब डिजिटल तरीके से जारी होंगे नतीजे

स्कूल एजूकेशन डायरेक्टर रूबिंद्रजीत सिंह बराड़ ने कहा कि वह इन कक्षाओं के नतीजे पेरेंटस और छात्रों को काउंसलिंग के जरिए डायरेक्ट देना चाहते थे, लेकिन इन नतीजों के मुताबिक 9वीं और 11वीं कक्षा में बहुत से बच्चे फेल और रि-अपीयर वाले हैं। इसलिए स्कूल प्रिंसिपलों और टीचर्स से इस विषय पर उनके सुझाव मांगे गए। सीबीएसइ द्वारा भी छात्रों के नतीजे डिजिटली घोषित किए जाने पर एडवाइजरी जारी की गई है।

मई में शुरू हो सकेगा नया सत्र

बराड़ ने बताया कि स्कूलों को दोबारा खोले जाने पर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता, क्योंकि यह फैसला सरकार और चंडीगढ़ प्रशासन द्वारा ही लिया जाएगा। ऐसे में स्थिति काबू में होने पर मई में ही स्कूलों में नया सत्र शुरू हो पाएगा।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Vikas_Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!