जेएनएन, चंडीगढ़। शहर में मंगलवार को भी पानी के लिए हाहाकार मचा रहा। हालांकि कजौली वाटर व‌र्क्स के तीसरे और चौथे फेज का जो हेडर टूट गया था, उसकी रिपेयरिंग का काम सुबह ही पूरा हो गया था। जैसे ही पानी की सप्लाई सुबह पांच बजे शुरू की गई तो 15 मीटर दूरी पर ही एक बड़ी लीकेज हो गई। प्रेशर बढ़ने से पाइप ज्यादा फट गई। जिसके कारण एक फेज से पानी की सप्लाई नहीं हो पाई। ऐसे में शहरवासियों को न तो सुबह और न ही शाम की पानी की सप्लाई मिली।

सप्लाई नार्मल होने में लगेगा समय

इसका एक बड़ा कारण यह है कि अभी सभी पाइपें और स्टोरेज टैंकर खाली हो गए हैं। ऐसे में उनके भरने के बाद ही शहर में पानी की सप्लाई का प्रेशर बनेगा। इसके बाद शहर में पानी की सप्लाई नार्मल होगी। चीफ इंजीनियर मनोज बंसल का कहना है कि जो रिपेयर का काम था, वह पूरा हो गया है। अब शहर में पहले की तरह पानी की सप्लाई लोगों के घरों तक आएगी।

तीन से चार घंटे का इंतजार करना पड़ा टैंकर के लिए

नगर निगम ने हेल्पलाइन पर शिकायत आने के बाद लोगों के घर पर पानी पहुंचाने के लिए 31 टैंकर लगाए हुए थे। जिनमें से 21 टैंकर नगर निगम ने किराये पर लिए हुए हैं। लेकिन हेल्पलाइन पर फोन करने के बाद भी तीन से चार घंटे बाद लोगों के घर पर पानी के टैंकर पहुंचे जबकि कई लोगों के घर पर शिकायत करने के बाद ही टैंकर नहीं पहुंचे। लोगों ने टैंकर मंगवाने के लिए मेयर, पार्षदों और अधिकारियों से भी सिफारिशें करवाई। सेक्टर-20 निवासी विनोद कुमार का कहना है कि वह हेल्पलाइन पर कई बार फोन कर चुके हैं लेकिन फोन ही नहीं मिल रहा है। कम से कम चार हेल्पलाइन नंबर जारी करने चाहिए।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!