चंडीगढ़, [सुमेश ठाकुर]। आयोध्या में भगवान श्रीराम के मंदिर के शिलान्यास को लेकर सेक्टर-33 में चंडीगढ़ के भाजपा कार्यालय 'कमलम' में हवन और आहूतियों के अलावा लंगर का भी आयोजन किया गया। 11 ब्राहम्णों की मौजूदगी में बुधवार सुबह 11 बजे तक चले हवन में भाजपा के विभिन्न नेताओं ने आहूतियां डाली और जय श्रीराम के नारों का उच्चारण किया। हवन पूरा होने के बाद कमलम में लंगर का विशेष आयोजन किया गया। जिसमें चावल के साथ दाल, कडी और हलवा प्रसाद बांटा गया। हवन डालने आने वाले लोगों के अलावा राहगीरों को भी यह लंगर दिया गया। इसके अलावा जो भी कार्यकर्ता हवन के लिए पहुंचा उसे प्रसाद के तौर पर देसी घी के बने लडूडू भी बांटे गए।

भाजपा कार्यालय में आयोजित हवन में आहुति डालने के लिए भाजपा के पूर्व अध्यक्ष संजय टंडन सहित कई नेता और पार्षद मौजूद है। हरियाणा के विधायक ज्ञानचंद गुप्ता और मेयर राजबाला मलिक भी आहुति देने के लिए पहुंची हैं। भाजपा अध्यक्ष अरुण सूद होम क्वारंटाइन होने के कारण नहीं आ सके। ऐसे में उन्होंने घर से ही आहुति भेजी। भाजपा ने बुधवार को मंदिर के निर्माण कार्य शुरू होने पर 28 क्विंटल देसी घी के लड्डू तैयार किए। 

सेक्टर-7 के सनातन धर्म मंदिर में भगवान राम के जयकारों का घोष करते श्रद्धालु।

लोगों के बैठने के लिए विशेष प्रबंध

कमलम में पहुंचने वाले लोगों के लिए विशेष प्रबंध किए गए थे। कार्यालय को टैंट से लपेट दिया गया था ताकि किसी को गर्मी नहीं लगे। इसके अलावा खास कुर्सियों के अलावा पंखे भी लगाए गए थे ताकि लोगों को ठंडी हवा भी मिल सके। हवन डालने वालों के चेहरे पर जीत की अलग ही खुशी देखने को मिल रही थी। पंडितों की तरफ से डाली जा रही आहूतियों का पता लोगों को दूर-दूर तक चल सके इसके लिए विशेष लाउड स्पीकर का भी इंतजाम किया गया था।

प्राचीन शिव मंदिर में बांटा गया लड्डू-हलवे का प्रसाद

राम जन्मभूमि पूजन के शुभ अवसर पर ट्रिब्यून चौंक के पास स्थित प्राचीन शिव मंदिर फेस-1 में कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष हरजिंदर सिंह बावा ने प्रभु श्री राम जी की पूजा-अर्चना कर आशीर्वाद प्राप्त किया। लड्डू और हलवे का प्रसाद बांटा उनके साथ बृजमोहन मीणा, राम कृष्ण, रजिंद्र कुमार, सुरेंद्र सिंह,  गुरदीप हैप्पी, अशोक कुमार, महेंद्र, अंशुल, कमला गोयल अलका वर्मा, शारदा दीक्षित, शीला, निर्मला, सुशीला रामवती, शोभा और मंदिर के संचालक सुखबीर सुखी उपस्थित रहे।

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की खुशी में मुबारकपुर में झंडे की रस्म अदा की गई। इस मौके पर हिंदू, मुस्लिम, सिख व ईसाई समुदाय के लोग इकट्ठे हुए। हलका विधायक एनके शर्मा ने झंडे की रस्म अदा की व सभी को प्यार मोहब्बत से रहने का संदेश दिया।

मंदिरों में भी विशेष प्रबंध

भाजपा कार्यालय के अलावा शहर के विभिन्न मंदिरों में भी शिलान्यास को लेकर विशेष प्रबंध किए गए है। मंदिरों में भी हवन का आयोजन हुआ और शाम को अलग-अलग मंदिर घी के दीए जलाएंगे। मंदिरों ने सुविधा अनुसार 501 से लेकर 1008 तक दीए जलाने का निर्णय लिया है ताकि भगवान श्रीराम के मंदिर निर्माण की सेलीब्रेशन बेहतर तरीके से हो सके।

हर घर बन गया आयोध्याः संजय टंडन

भाजपा कार्यालय में हवन के लिए पहुंचे भाजपा के पूर्व अध्यक्ष संजय टंडन ने कहा कि यदि कोरोना नहीं होता तो हम सभी आयोध्या जाते, लेकिन कोरोना ने हर घर और शहर आयोध्या बना दी है। दिन में भी हवन हो रहे है और शाम को भी घी के दीए जलाए जाने हैं जो कि देश की एकता का बहुत बड़ा सबूत है।

सेक्टर 33 के भाजपा कार्यालय में आयोजित हवन में आहुति डालने के लिए भाजपा के पूर्व अध्यक्ष संजय टंडन सहित कई नेता और पार्षद मौजूद हैं।

आहूति डालने के लिए कांग्रेस का न्योता

वहीं भाजपा अध्यक्ष सूद ने बताया कि सिख, जैन, बौद्ध, मुस्लिम और ईसाई समाज को भी बुलाया गया है। इस हवन में आहूति डालने के लिए कांग्रेस, आप और अन्य विपक्षी दलों को भी बुलाया गया। इसके साथ ही एक दीये बेचने वाले विक्रेता विनोद कुमार को भी पार्टी कार्यालय में बैठाया गया, ताकि लोग अपने घरों में दीये जला सकें। शहर में कई एरिया में लोगों ने मंगलवार रात भी अपने घर पर दीये और मोमबत्तियां जलाकर राम मंदिर का निर्माण शुरू होने की खुशी जाहिर की। हवन सुबह नौ से 11 बजे तक होगा, जिसके लाइव टेलिकास्ट की भी व्यवस्था की गई है।

अयोध्या में श्रीराम मंदिर के शिलान्यास को लेकर सेक्टर-33 भाजपा कार्यालय कमलम में 25 क्विंटल लड्डू बनाए गए।

अयोध्या में श्रीराम मंदिर का बनना पीढ़ी का सौभाग्य : अरुण सूद

ऐसा लग रहा है, जैसे एक सपना साकार हो रहा हो। यह उनकी पीढ़ी का सौभाग्य है कि जो भगवान राम के भव्य मंदिर का निर्माण शुरू हो रहा है और दो साल बाद लोग वहां पर जाकर दर्शन भी कर पाएंगे। मंदिर के निर्माण के लिए लाखों लोगों ने अपनी कुर्बानियां दी हैं। भगवान राम पूरे देश के आराध्य हैं और इस समय हर कोई हर्ष और खुशी से इसे एक पर्व के तौर पर मना रहा है। उन्हें खुशी है कि आंदोलन में वे भी एक कार सेवक के तौर पर काम कर चुके हैं। यह कहना है कि चंडीगढ़ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद का। सूद का कहना है कि आंदोलन के तहत शहर में हुए हर कार्यक्रम में शामिल हुए थे। साल 1990 से पहले शहर में शीलाओं की पूजा जगह-जगह होती थी और वह हर कार्यक्रम में शामिल हुए थे। उन्होंने बताया कि पूरे शहर से शीलाओं की पूजा के बाद सेक्टर-23 के मुनि मंदिर से यह अयोध्या गई थी, उस समय भी वह वहां पर मौजूद थे। उस समय के तत्कालीन केरल के प्रचारक आंनद कुमार भी मौजूद थे। उसी दिन ही वह आरएसएस के संघ सेवक बने थे। राम मंदिर के लिए आंदोलन के दौरान प्रभातफेरियां और कीर्तन होते थे, जिसमें हर वर्ग के लोग शामिल होते थे। जिस समय ढांचा गिराया गया था, उस समय वे शहर के अन्य लोगों के साथ अयोध्या में मौजूद थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!