चंडीगढ़, जेएनएन। पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजाेत सिंह सिद्धू पुलवामा में हुए आतंकी हमले पर अपने बयान को लेकर विपक्षी दलों के निशाने पर आ गए हैं। शिरोमणि अकाली दल अौर भाजपा के नेताओं ने सिद्धू के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। शिअद के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया ने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से मांग की है कि वह सिद्धू को पार्टी से बाहर निकालें। उन्‍होंने कैप्टन अमरिंदर सिंह से भी कहा है कि वह सिद्धू को कैबिनेट से बाहर निकाल कर संदेश दें कि असली कैप्टन कौन है। शिअद प्रधान सुखबीर सिंह बादल ने भी सिद्धू की निंदा की।

मजीठिया यहां सिद्धू पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि सिद्धू भारत के पक्ष को कमजोर कर रहे हैं। कांग्रेस जवानों की शहादत पर दोगली नीति अपना रही है। एक तरफ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी निंदा कर रहे हैं और दूसरी तरफ सिद्धू पाकिस्तान सरकार के प्रवक्ता बने हुए हैं।

उन्होंने कहा कि इमरान खान आइएसआइ की बोली बोल रहे हैं। सिद्धू को पाकिस्तान से इतना ही लगाव है तो अपने यार इमरान के पास चले जाएं। सिद्धू पाकिस्तानी एजेंट की भूमिका निभा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि राहुल गांधी को चाहिए कि सिद्धू को तुरंत कांग्रेस से बाहर करें।

वहीं, मोगा में शिअद अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने भी नवजोत सिद्धू पर निशाना साधा। सुखबीर ने कहा कि सिद्धू पाकिस्तान से दोस्ती निभाने में लगे हैं। वह भारत के लोगों की बात करें न कि पाकिस्तान की। यदि उनको पाकिस्‍तान से इतना प्‍यार है तो वहीं चले जाएं।

------

जो व्यक्ति मसखरी के लिए फिट नहीं, क्या वह मंत्री के लिए फिट है: कमल शर्मा

भारतीय जनता पार्टी के पूर्व प्रदेश प्रधान कमल शर्मा ने भी सिद्धू के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। कमल शर्मा ने कहा कि जो व्यक्ति टीवी पर मसखरी के लिए भी फिट नहीं है, कैप्टन साहिब बताएं कि क्या वह कैबिनेट मंत्री बनाने लायक है। सिद्धू को कैबिनेट से तुरंत बर्खास्त किया जाना चाहिए। कमलशर्मा ने कैप्टन अमरिंदर सिंह की पंजाब विधानसभा में दिए गए बयान की तारीफ की और उन्हें देश का सच्चा सिपाही बताया।

--------

कैप्टन का स्टैंड प्रशंसनीय, पर सिद्धू मंत्रिमंडल में क्यों : सुभाष

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश सचिव डाॅ. सुभाष शर्मा ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान व आइएसआइ के खिलाफ मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा लिए गए दृढ़ स्टैंड की सराहना की है। इसके साथ्‍र ही उन्होंने कैप्‍टन अमरिंदर को पत्र लिखकर उनसे स्थानीय निकाय व पर्यटन मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को मंत्रिमंडल से बाहर करने की मांग की है।

यह भी पढ़ें: मुलाना में कश्मीरी छात्रों पर भड़का लोगों का गुस्सा, पुलवामा हमले के बाद जश्‍न मनाने का अारोप

डाॅ. सुभाष शर्मा ने पत्र में कहा है, आपके स्टैैंड के ठीक विपरीत आपके कैबिनेट मंत्री सिद्धू इस आतंकी हमले पर पाकिस्तान के सुर में सुर मिलाते दिख रहे हैं। उनके बयान ने आतंकवाद व कश्मीर के मुद्दे पर भारत के परंपरागत स्टैंड को कमजोर करने का काम किया है। पहले भी सिद्धू पाकिस्तानी सेना के जनरल कमर जावेद बाजवा को जफ्फी डालकर अपने पाकिस्तानी दोस्तों को ही खुश करते नजर आए हैं। अब उचित समय है कि सिद्धू के खिलाफ सख्त कार्रवाई करके उन्हें बाहर का रास्ता दिखाएं। यह कदम इतिहास में सदैव याद रखा जाएगा।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!