जागरण संवाददाता, चंडीगढ़।  तेरह सालों के लंबे अंतराल के बाद इस साल एक बार फिर पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ को देश की प्रतिष्ठित मौलाना अबुल कलाम आजाद (माका) ट्रॉफी मिलने जा रही है। पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ को यह ट्रॉफी साल 2018-19 में उसके बेहतर खेल प्रदर्शन के आधार पर मिलेगी। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय द्वारा साल 1956-57 से शुरू की गई इस ट्रॉफी को पंजाब यूनिवर्सिटी इससे पहले 14 बार हासिल कर चुकी है। इस साल की यह ट्रॉफी पीयू को स्पो‌र्ट्स-डे (29 अगस्त) पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद देंगे। पिछले एक दशक से पीयू चंडीगढ़ इस ट्रॉफी को हासिल करने के लिए निरंतर प्रयास कर रही थी। पीयू के खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन कर रहे थे, जिस वजह से हर साल पंजाब यूनिवर्सिटी टॉप फोर में बनी रही। साल 2017-18 में पीयू दूसरे स्थान पर थी।

पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ ने आखिरी बार साल 2005-06 में खिताब जीता था। गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी अमृतसर ने 23 बार जीती है ट्राफी सबसे मौलाना अबुल कलाम आजाद ट्रॉफी पर सबसे ज्यादा बार कब्जा करने वाली गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी अमृतसर इस साल दूसरे स्थान पर रही। गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी अमृतसर ने यह ट्राफी सबसे ज्यादा 23 बार जीती है। साल 2017-18 में भी यह ट्रॉफी गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी अमृतसर ने जीती थी। साल 2018-19 में तीसरे स्थान पर पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला और चौथे स्थान पर कुरूक्षेत्र यूनिवर्सिटी रही। अभी तमाम यूनिवर्सिटीज की फाइनल टेली नहीं आई है, लेकिन ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी स्तर पर मिले अवार्ड के आधार पर तय है कि इस बार पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ ही इस प्रतिष्ठित ट्रॉफी को हासिल करेगी। सूत्रों की माने तो इंटर यूनिवर्सिटी और इंटरनेशनल उपलब्धियों के आधार पर पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ ने अपने 11,540 प्वाइंट्स बताए थे।

वहीं गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी अमृतसर ने 11908 प्वांइट्स बताए थे, लेकिन अन्य यूनिवर्सिटी की तरफ से मिले ऑब्जेक्शन और फाइनल डिटेल के बाद पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ ने टॉप पर अपनी जगह बनाई है। अभी इसकी अधिकारिक पुष्टि 17 अगस्त को होगी। इन खेलों में पीयू के खिलाड़ियों ने दिखाया दमखम मौलाना अबुल कलाम आजाद ट्रॉफी हर साल उस यूनिवर्सिटी को मिलती है, जिसका प्रदर्शन दूसरी यूनिवर्सिटी के मुकाबले बेहतर रहता है। साल 2018-19 में पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ के खिलाड़ियों ने शूटिंग, जूडो, जिमनास्टिक, स्वि¨मग, रोइंग, फें¨सग, वुशु और बॉक्सिंग जैसी खेलों में बेहद शानदार प्रदर्शन किया। ऑल इंडिया इंटर यूनिवर्सिटी की कई खेलों में तो पीयू ओवरऑल चैंपियन भी रहा।

हमारे खिलाड़ियों ने ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी और इंटरनेशनल स्तर शानदार खेल प्रदर्शन किया है। हम कई खेलों में ओवरऑल चैंपियन बने हैं। अभी मौलाना अबुल आजाद कलाम ट्रॉफी मिलने की अधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है, लेकिन हम टॉप पर हैं, इसलिए आने वाले एक दो दिनों में इसकी घोषणा हो जाएगी। डॉ. परमिंदर सिंह आहलुवालिया, स्पो‌र्ट्स डायरेक्टर, पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!