मोहाली, जेएनएन। ड्राइवरों की भर्ती के लिए पंजाब सबऑर्डिनेट सर्विस सिलेक्शन बोर्ड पिछले 4 सालों से भर्ती प्रक्रिया पूरी नहीं कर रहा। इस भर्ती को विभाग द्वारा बार-बार लटकाया जा रहा है जिस कारण सैकड़ों विद्यार्थियों का भविष्य दांव पर लगा हुआ है। बार-बार विनती करने पर भी सिलेक्शन बोर्ड द्वारा इस बारे में कुछ भी नहीं बताया जा रहा कि उनकी भर्ती कब पूरी होगी। अपनी मांगों को मनवाने के लिए आहत हुए परीक्षार्थी द्वारा आज एक प्रेस कान्फ्रेंस की गई। परीक्षार्थियों द्वारा पंजाब सरकार के सिस्टम के खिलाफ जहां रोष प्रगट किया गया वहीं उनको 20 दिन का अल्टीमेटम भी दिया गया है की अगर उनकी भर्ती प्रक्रिया तय किए समय अनुसार पूरी ना कि गई तो वह सीएम के फार्म हाउस का घेराव करेंगे। 

इस मौके गुरसेवक सिंह ने कहा कि बोर्ड की अनदेखी के कारण आज अनेकों ड्राइवर परेशानी में अपना जीवन व्यतीत करने के लिए मजबूर है। उन्होंने बताया कि पंजाब सबऑर्डिनेट सर्विस सिलेक्शन बोर्ड पिछले 4 सालों से भर्ती प्रक्रिया सर्विस सिलेक्शन बोर्ड ने पंजाब सरकार विभाग में ड्राइवरों के खाली पड़े पदों की भर्ती संबंधी 5/2016 में इश्तिहार दिया गया था और तकरीबन ढाई सालों बाद 16 सितंबर 2018 को लिखित पेपर लिया गया और उसका परिणाम भी घोषित किया गया पर परिणाम ऐलान करने के बाद महीना मार्च 2020 में मेरिट अनुसार उम्मीदवारों के सर्टिफिकेट व ड्राइविंग लाइसेंस आदि की चेकिंग के लिए काउंसलिंग की गई थी और बोर्ड द्वारा अलग-अलग कोड के अधीन मैरिट में आए योग्य उम्मीदवारों का ड्राइविंग का स्किल टेस्ट भी दिसंबर 2020 व जनवरी 2021 में लिया गया और कुछ कोड का स्किल टेस्ट अभी भी नहीं लिया गया।

इसके साथ सैकड़ों उम्मीदवारों का भविष्य दांव पर लगा है। उपरोक्त भर्ती संबंधी चल रही प्रक्रिया को साढ़े 4 साल से भी अधिक समय हो जाने के कारण उम्मीदवारों में मायूसी छाई हुई है। इस भर्ती में शामिल बहुत सारे उम्मीदवार अब ओवरेज भी हो चुके हैं। उन्होंने चेतावनी देते हुए सरकार को मांगे मानने के लिए 20 दिन का समय दिया है। इस मौके रंजीत सिंह, गुरसेवक सिंह, सुखविंदर सिंह व लखविंदर सिंह भी मौजूद थे।

 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें