जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Punjab CM Charanjeet Singh Channi) लोगों के बीच बिल्कुल आम इंसान की तरह व्यवहार करते हैं। लोगों की मदद के लिए वह अपना काफिला छोड़कर पहुंच जाते हैं। इसका एक सबूत चंडीगढ़ में देखने को मिला।

सोमवार दोपहर के समय चंडीगढ़ के साउथ डिविजन एरिया से पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का काफिला गुजर रहा था। इसी दौरान सड़क की दूसरी तरफ एक बाइक सवार बाइक स्किड होने से हादसे का शिकार हो गया। सीएम चन्नी की नजर सड़क पर गिरे युवक पर पड़ी तो उन्होंने अपना काफिला रोका दिया और खुद युवक के पास पैदल पहुंच गए।

सीएम का काफिल बीच सड़क पर रुक जाने से आसपास के लोग भी वहां पहुंच गए और यह जानने का प्रयास कर रहे थे कि आखिर यहां क्या हो रहा है। सीएम चन्नी ने दरियादिली दिखाते हुए घायल युवक का हालचाल जाना और उससे बात भी की और पूछा कि तुम ठीक हो तो उसने जवाब दिया मैं बिल्कुल ठीक हूं। हालांकि युवक को अस्पताल पहुंचाने के लिए एंबुलेंस तक मौके पर बुला ली गई थी, लेकिन युवक को हल्की चोट लगी थी, जिस वजह से उसने अस्पताल जाने के लिए मना कर दिया। इसके बाद चन्नी घायल युवक से हाथ मिला कर वहां से निकल गए। वहीं, मौके पर पहले से चंडीगढ़ पुलिस और विभाग की पीसीआर वैन मौजूद थी।

इससे पहले भी मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी बच्चों को हेलीकाप्टर में सैर करवाई थी। चन्नी ने अपने फेसबुक पेज पर बच्चों के साथ ली गई सेल्फी शेयर करते हुए लिखा था कि मोरिंडा यात्रा के दौरान मैंने देखा कि कुछ बच्चे हेलीकाप्टर के पास खेल रहे थे। उन्हें देखकर मुझे वह समय याद आ गया जब जब मैं छोटा था मैं विमान देखता था और सोचता था कि एक दिन मुझे भी उसमें बैठने का मौका मिलेगा। उसी दिन को याद करते हुए मैंने गांव के कुछ बच्चों को अपने साथ हेलीकाप्टर में बैठाकर घुमाया। चन्नी ने लिखा कि बच्चे पंजाब और देश का भविष्य हैं। उनके सपनों को पूरा करना ही मेरा लक्ष्य है।

Edited By: Ankesh Thakur