-आज राहुल के साथ होनी है बैठक, नौ विधायकों को मिलेगी मंत्रिमंडल में जगह

---

राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़: कैबिनेट विस्तार को लेकर वीरवार को कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ होने वाली बैठक से पहले मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पार्टी स्तर पर राय मश्विरा किया। दिल्ली में मुख्यमंत्री के आवास पर देर शाम तक बैठक चलती रही। इसमें मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के अलावा पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़, प्रदेश प्रभारी आशा कुमारी और हरीश चौधरी मौजूद थे।

जानकारी के अनुसार राहुल गांधी के साथ बैठक से पहले यह बैठक केवल इसलिए रखी गई, ताकि राष्ट्रीय अध्यक्ष के समक्ष सारी स्थितियां स्पष्ट रहें और एक ही बैठक में कैबिनेट विस्तार पर चर्चा हो जाए। राहुल गांधी के साथ होने वाली बैठक में सभी नौ मंत्रियों के नामों पर चर्चा होनी है। इसलिए कैप्टन ने बुधवार को बैठक कर संभावित मंत्रियों के नाम पर चर्चा की।

जानकारी के अनुसार कांग्रेस सरकार हर वर्ग व क्षेत्र को ध्यान में रख कर मंत्री मंडल का विस्तार करने जा रही है। इसमें अनुभवी विधायकों के अलावा युवा विधायकों को भी समायोजित किया जा सकता है। मंत्रिमंडल के विस्तार में यह भी चर्चा का विषय बना हुआ है कि क्या सभी 9 सीटों को एक साथ भरा जाए या इसे दो चरण में पूरा किया जाए। पहले चरण में करीब 7 व दूसरे में 2 मंत्रियों को बनाने पर भी विचार किया जा रहा है। सूत्र बताते हैं कि दो चरणों में कैबिनेट विस्तार के पीछे यह भी सोच है कि संगठन में किसी भी प्रकार का विरोधाभास न पैदा हो। इसलिए भी दो सीटों को फिलहाल न भरा जाए। पंजाब में मुख्यमंत्री समेत 18 मंत्री बनाए जा सकते हैं। वर्तमान में पंजाब सरकार में मुख्यमंत्री समेत 9 मंत्री हैं।

जानकारी के अनुसार मंत्री पद की दौड़ में राजकुमार वेरका, राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी, सुरेंदर डाबर, संगत सिंह गिलजियां, विजय इंदर सिंगला, परगट सिंह, भारत भूषण आशु, नवतेज चीमा, ओपी सोनी और सुखजिंदर सिंह रंधावा आदि शामिल हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!