डा. सुमित सिंह श्योराण, चंडीगढ़

पंजाब यूनिवर्सिटी कैंपस खुलने में अभी डेढ़ से दो महीने का समय लग सकता है। पीयू की 28 जून से शुरू होने वाली सेमेस्टर परीक्षाओं के समापन के बाद ही अगस्त में कैंपस खुलने की उम्मीद है। पीयू प्रशासन ने साफ कर दिया है कि कैंपस खोलने को लेकर किसी तरह की जल्दबाजी नहीं होगी। बीते दो महीने के भीतर 250 से अधिक कोरोना मामले पीयू कैंपस में आ चुके हैं, साथ ही पांच कर्मचारियों की कोरोना से मौत भी हो चुकी है। ऐसे में पीयू प्रशासन छात्र संगठनों के किसी भी तरह के दबाव के सामने झुकने को तैयार नहीं हैं।

बीते कई दिनों से छात्र नेता समर्थकों के साथ पीयू कैंपस खोलने की मांग पर विरोध प्रदर्शन कर हैं। बीते हफ्ते अधिकारियों की अहम बैठक में यह स्पष्ट कर दिया गया है कि कोरोना महामारी से फिलहाल ऐसे हालात नहीं है कि कैंपस में एकेडिमक गतिविधियों को शुरू किया जाए। पीयू अधिकारियों की माने तो जुलाई के बाद ही हालात बेहतर होने पर अगस्त में कैंपस खोलने की कुछ संभावना बन सकती है, वह भी तभी संभव होगा जब इस संबंध में केंद्र सरकार और यूटी प्रशासन की ओर से हरी झंडी मिलेगी। 15 जून से पीयू सेमेस्टर परीक्षाओं के प्रैक्टिकल शुरू होने जा रहा है, जबकि लिखित परीक्षाएं 28 जून से ऑनलाइन होंगी। दोनों परीक्षाएं स्टूडेंट्स घर बैठे ऑनलाइन देंगे, जिसपर बीते शुक्रवार को हाईपावर कमेटी ने मुहर भी लगा दी है। परीक्षाएं खत्म होने में पूरा जुलाई लग जाएगा। ऐसे में जुलाई में कैंपस खुलने की संभावना नहीं के बराबर है।

कॉलेज भी अभी रहेंगे बंद, सितंबर तक नया सत्र

पीयू एफिलिेटेड शहर के कॉलेजों में भी अभी ऑफलाइन पढ़ाई के लिए इंतजार करना होगा। पीयू और कॉलेजों की परीक्षाएं एक साथ होंगी। कॉलेजों को खोलने का फैसला यूटी प्रशासन करता है। बीते डेढ़ साल से कॉलेज लगभग बंद हैं। यूटी प्रशासन ने कुछ समय ऑफलाइन कक्षाओं की छूट दी थी, लेकिन रिस्पांस अच्छा नहीं मिला। कॉलेजों के हॉस्टल भी खोले गए लेकिन 10 से 20 स्टूडेंट्स ही मुश्किल से हॉस्टल में आए थे। ऐसे में अभी शहर के कॉलेजों में भी अगस्त-सितबर में ही कोरोना की स्थिति को देखते हुए ऑफलानि सत्र शुरू होने की उम्मीद है। उधर सीबीएसई 12वीं बोर्ड का रिजल्ट जुलाई में ही घोषित किया जाएगा, जिसके बाद ही शहर के कॉलेजों में एडमिशन प्रोसेस शुरू होगा। पीयू लाइब्रेरी खोलने पर नौ जून के बाद फैसला

पीयू कैंपस में टीचिग डिपार्टमेंट और लाइब्रेरी अभी बंद हैं। यूटी प्रशासन के निर्देशों के तहत नौ जून तक पीयू ने यह व्यवस्था की है। रिसर्च स्कॉलर के लिए पीयू लाइब्रेरी खोलने पर पीयू प्रशासन आने वाले दिनों में कुछ ढील दे सकता है। कोट्स .

पीयू प्रशासन को कैंपस में एकेडमिक गतिविधियां शुरु करने में कोई दिक्कत नही हैं, लेकिन फिलहाल कोरोना महामारी के कारण हालात ठीक नहीं हैं। स्टूडेंट्स की सेफ्टी हमारे लिए सबसे महत्वपूर्ण है।

प्रोफेसर एसके तौमर, डीएसडब्ल्यू पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़।

Edited By: Jagran