चंडीगढ़, जेएनएन। भाजपा नेता और पूर्व जिला परिषद मेंबर धर्मेद सिंह सैनी पर जिला अदालत में होटल पर कब्जा करने का केस चल रहा है। थाने में केस दर्ज होने के बावजूद अभी तक पुलिस ने उसे गिरफ्तार नहीं किया है। इस पर चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट अभिषेक फुटेला की कोर्ट ने पुलिस को नोटिस जारी कर दिया है। दरअसल शिकायतकर्ता पंकज ने अदालत में एक याचिका दायर कर मामले की स्टेटस रिपोर्ट पुलिस से मंगवाने के लिए अदालत से अपील की थी। इस पर अदालत ने अब पुलिस को नोटिस जारी किया है। मामले की अगली सुनवाई अब पांच दिसंबर को होगी।

दस लाख रुपये सिक्योरिटी भी नहीं लौटाई

पुलिस को दी शिकायत में पलसोरा निवासी पंकज ने बताया था कि 12 अप्रैल की दोपहर को धर्मेद्र कुछ लोगों के साथ उनके होटल में जबरदस्ती घुस आया। होटल पर कब्जा कर लिया और पंकज का स्टाफ बदलकर अपने कर्मचारी रख लिए। ये होटल पंकज ने तीन साल के लिए धर्मेद्र से ही लिया था। लेकिन एग्रीमेंट खत्म होने से पहले उसने होटल पर कब्जा कर लिया और दस लाख रुपये की सिक्योरिटी भी वापस नहीं की।

पंकज ने एसएसपी ऑफिस में शिकायत दी थी। एसएसपी ने लीगल ओपिनियन के बाद धर्मेद्र के खिलाफ 24 अगस्त 2019 को मामला दर्ज किया था। मामला दर्ज होने के दो महीने के बाद भी पुलिस ने धर्मेद्र को नहीं पकड़ा है। धर्मेद्र के राजनीतिक लिंक हैं, इसलिए पुलिस खुद का बचाने में लगी है।

-एडवोकेट अभिनय गोयल, पंकज के वकील

पुलिस ने गलत केस दर्ज किया है। पंकज ने खुद यह होटल छोड़ने के लिए मुझे पजेशन दिया था। उनके खिलाफ शिकायत देने वाले पंकज सिंह पर खुद सेक्सुअल हरासमेंट तक का केस दर्ज है जिसमें वह जेल में रह चुका है। -धर्मेद्र

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!