चंडीगढ़, [विशाल पाठक]। छह माह की मासूम की कोराेना से मौत पर चंडीगढ़ पीजाआइ के डॉक्‍टर भी रो पड़े। 26 घंटे तक कोरोना वायरस COVID-19 से लड़ने के बाद फगवाड़ा की इस बच्‍ची ने दम ताेड़ दिया। इस बच्‍ची के दिल के छेद को ठीक करने की सर्जरी होनी थी और इसकी पूरी तैयारी हो गई थी, तभी वह कोराेना महामारी की चपेट में आ गई। उधर 18 डॉक्‍टरों सहित 54 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आने से पीजीआइ प्रशासन ने राहत की सांस ली है।

दिल में छेद था और सर्जरी की पूरी तैयारी हो गई थी, मासूम ने 26 घंटे तक कोरोना से जंग लड़ी

वीरवार दिन में करीब एक बजे पंजाब के फगवाड़ा इस बच्ची की मौत हो गई। बच्ची के दिल में छेद था और उसे  पीजीआइ के पीडियाट्रिक सेंटर में सर्जरी के लिए एडमिट किया गया था। मंगलवार को बच्ची को इन्फेक्शन हुआ तो कोरोना जांच के लिए उसका सैंपल भेजा गया। बुधवार सुबह बच्ची की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

इसके बाद बच्ची को पीजीआइ के कोरोना आइसोलेशन वार्ड में एडमिट किया गया। बुधवार देर शाम को उसकी अचानक तबीयत बिगड़ गई तो उसे उसे आइसीयू में शिफ्ट किया गया। वहां उसे वेंटीलेटर पर रखा गया। डॉक्‍टर उसकी जान बचाने के लिए जुट गए, लेकिन उनकी सारी कोशिशों फेल हाे गई। वीरवार को बच्ची की मौत हो गई तो डॉक्‍टरों में निराशा छा गई। मौजूद डॉक्‍टरों और मेडिकल कर्मी रो पड़े।

संपर्क में आए18 डॉक्टरों समेत 54 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव

बच्‍ची के कोेरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद इलाज के दौरान उसके संपर्क में पीजीआइ के 18 डॉक्टर समेत कुल 54 लोगों के सैंपल भी कोरोना जांच के लिए भेजे गए।  वीरवार को इन सभी लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। इससे पीजीआइ प्रशासन ने राहत की सांस ली है।

पंजाब के फगवाड़ा की रहने वाली बच्‍ची को उसके माता-पिता इलाज कराने के लिए पीजीआइ लेकर आए थे। यहां बच्‍ची को 9 अप्रैल को एडवांस पीडियाट्रिक्स सेंटर में एडमिट किया गया था और उसका इलाज चल रहा था। दो-तीन दिन पहले से बच्‍ची को इंफेक्शन हो रहा था। ऐसे में पीजीआइ के डॉक्टरों ने उसका सैंपल काेरोना जांच के लिए भेजा।

माता और पिता की रिपोर्ट आई नेगेटिव

दूसरी ओर, बच्ची के माता और पिता का सैंपल भी कोरोना जांच के लिए भेजा गया था। उनकी रिपोर्ट वीरवार रिपोर्ट आई। दोनों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। वहीं बच्ची के नाना और नानी को होम क्वारेंटाइन किया गया है।

यह भी पढ़ें: पंजाब में कोरोना से 17वीं मौत, PGI में दिल में छेद के इलाज के लिए भर्ती 6 माह की बच्‍ची ने दम तोड़ा

यह भी पढ़ें: गेहूं खरीद के लिए सरकार ने बनाई नई रणनीति, आढ़तियों को दी सख्त चेतावनी

 

 

यह भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलियाई पीएम ने मदद से किया इनकार तो हरियाणा की बेटी सगनदीप ने उठाया बीड़ा

 

 

यह भी पढें: कोरोना याेद्धा डॉक्‍टर दं‍पती को सलाम, लेकिन समाज पर सवाल, बच्‍चे को बंद कर जाना पड़ता है अस्‍पताल

 

 

यह भी पढ़ें:  PGI निदेशक का खुलासा- कटने के बाद जोड़ा गया ASI हरजीत का हाथ पांच माह मेें करेगा काम

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!