जागरण संवाददाता, मोहाली :

पंजाब के सेहत मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू के जिले में लोगों को कोविड वैक्सीन लगाने के लिए परेशान होना पड़ा रहा है। लोग वैक्सीन लगवाना चाह रहे है। लेकिन लोगों को अस्पतालों में जाने पर वैक्सीन नहीं मिल रही। फेज-6 के अस्पताल, ढकौली के हेल्थ सेंटर, खरड़, कुराली में मंगलवार को कई जगहों पर वैक्सीन नहीं मिली। हालांकि प्रशासन की ओर से दवा किया जा रहा है कि वैक्सीन की कोई कमी नहीं है। लेकिन हकीकत कुछ ओर है। कुछ दिनों पहले तक लोगों को कैंप लगाकर टीकाकरण के लिए प्रेरित करने वाला स्वास्थ्य विभाग भी अब अपने अस्पतालों में टीकाकरण करने में फेल होता दिख रहा है। डॉक्टरों का कहना है कि डोज पीछे से कम मिल रही है। स्टॉक आता है तो खत्म हो रहा है। वहीं लोग जब टीका लगाने जाते है तो उन्हें अगले दिन आने को कहा जा रहा है। लेकिन अगले दिनों में टीका लगेगा या नहीं इस की गारंटी नहीं है। खरड़ की दिव्या ने कहा कि सिविल अस्पताल में टीका लगवाने गई थी लेकिन वैक्सीन नहीं है। वहीं ढकौली के राजीव ने बताया कि दो दिन से टीकाकरण बंद पड़ा है। फेज-6 की इंचार्ज पूनम ने बताया कि मंगलवार को डोज खत्म हो गई थी। पूनम ने कहा कि वैक्सीन आने के बाद टीकाकरण शुरू कर दिया जाएगा। टीकाकरण जारी है। डोज की किल्लत नहीं है। जितन स्टाक आ रहा है उसका वितरण किया जा रहा है।

- डा. आदर्श पाल कौर, सिविल सर्जन।

18 प्लस के लोगों को टीकाकरण के लिए अभी और करना होगा इंतजार

कोविड के मामले बढ़ने के बाद लगातार लोग टीका लगाने के लिए जागरूक हो रहे हैं। हालांकि अभी 18 प्लस के लोगों को टीकाकरण सरकारी अस्पतालों में शुरू नहीं किया जा सका है। लेकिन निजी अस्पतालों में 1250 रुपये में कोविड वैक्सीन 18 प्लस के लोगों को लगानी शुरू हो गई है।