मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

-मुख्यमंत्री ने इसी माह नया कानून लागू करने के संकेत दिए थे

---

राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़: संगठित क्राइम का नेक्सस तोड़ने के लिए पंजाब सरकार 17 नवंबर को होने वाली कैबिनेट बैठक में पंजाब कंट्रोल ऑफ ऑर्गेनाइज्ड क्राइम एक्ट (पकोका) का प्रस्ताव लाने की तैयारी में है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पहले ही इस बात के संकेत दे चुके है कि इस माह से इसे लागू किया जाएगा। राज्य में इस समय 35 के करीब संगठित आपराधिक ग्रुप सक्रिय हैं। वहीं, दो वर्षो में धार्मिक नेताओं की हत्याओं के बाद पंजाब सरकार इसे लेकर ज्यादा गंभीर है। पंजाब सरकार की चिंता इस बात को लेकर भी है कि इन संगठनों के साथ जुड़े ज्यादातर अपराधी युवा हैं। इनकी उम्र 20 से 35 वर्ष के बीच है। यही कारण है कि सरकार पकोका लाकर युवाओं को संगठित ग्रुप के प्रति आकर्षित होने से रोकना चाहती है।

पंजाब सरकार ने करीब तीन माह पूर्व कैबिनेट सब कमेटी का गठन किया था। 3 नवंबर को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कैबिनेट सब कमेटी के चेयरमैन ब्रह्म मोहिंदरा को पकोका कानून का मसौदा जल्दी तैयार करने के निर्देश दिए है। माना जा रहा है कि 17 को होने वाली कैबिनेट बैठक से पूर्व कैबिनेट सब कमेटी की रिपोर्ट आ जाएगा और आने वाली कैबिनेट बैठक में पकोका पर विचार किया जाएगा। हालांकि, सरकार की चिंता यह भी है कि पकोका के लागू होने से पुलिस की पावर में वृद्धि होगी, इसलिए कहीं पुलिस इसका दुरुपयोग न करे। इस बात की आशंका विपक्ष भी जताता रहा है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!