चंडीगढ़, जेएनएन। शहरवासियों को अब ऑनलाइन होने ठगी के प्रति और भी ज्यादा सजग होने की जरूरत है। ऑनलाइन ठगी करने बैठे जालसाजों ने अब ठगी करने का नया ही तरीका अपना लिया है, जिसके लिए उन्हें आपके बैंक अकाउंट से संबंधित किसी भी प्रकार की कोई जानकारी आपसे नहीं चाहिए। इसके अलावा आपके मोबाइल नंबर पर आने वाले ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) भी आपसे नहीं मांगा जाएगा। लेकिन बावजूद इसके आपके अकाउंट से पैसे निकाल लिए जाते है या शॉपिंग कर ली जाती है।

ताजा मामला सेक्टर आठ निवासी एसएमएस संधू की शिकायत पर दर्ज किया गया है। अपनी शिकायत में संधू ने अपनी शिकायत में बताया कि उनके एसबीआइ कार्ड से किन्हीं अनजान लोगों ने 2,92,000 रुपये की ठगी की है। बताया कि एक अज्ञात व्यक्ति ने उन्हें कॉल कर मोबाइल पर आए ओटीपी नंबर को शेयर करने के लिए कहा। लेकिन पीड़ित के मुताबिक उन्होंने न तो कोई ट्रांजेक्शन और न ही ऑनलाइन खरीदारी की। लेकिन इसके बावजूद उनके कार्ड से अलग-अलग दो ट्रांजेक्शन के जरिये दो लाख 92 हजार रुपये निकल गए। उनका आरोप है कि न तो उन्होंने खरीदारी की और न ही ओटीपी या बैंक संबंधित अन्य जानकारी शेयर की थी। इसके बावजूद ठगों ने उनके खाते से ऑनलाइन खरीदारी कर ठगी कर ली।

मामले में साइबर सेल की टीम ने जांच के दौरान पाया कि शिकायतकर्ता के क्रेडिट कार्ड पर मुंबई की एक ऑनलाइन कंपनी से सोने की खरीदारी की गई है। साइबर सेल की प्रारंभिक जांच रिपोर्ट के बाद सेक्टर तीन थाना पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ आइटी एक्ट, धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है। वहीं मामले की जांच की जा रही है। साइबर क्राइम के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। केवल सर्तकता से ऑनलाइन ठगी से बचा जा सकता है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Sat Paul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!